Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Red Alert: प्रचंड वेग में आगे बढ़ रहा ''तितली'' चक्रवात, ओडिशा सरकार ने खाली कराए 5 तटीय जिले

बंगाल की खाड़ी पर बन रहे दबाव के कारण आए चक्रवाती तूफान ''तितली'' ने बेहद प्रचंड रूप ले लिया और यह तट की ओर बढ़ रहा है जिसके चलते ओडिशा सरकार ने पांच तटीय जिलों में लोगों से घरों को खाली कराना शुरू कर दिया है।

Red Alert: प्रचंड वेग में आगे बढ़ रहा

बंगाल की खाड़ी पर बन रहे दबाव के कारण आए चक्रवाती तूफान 'तितली' ने बुधवार को बेहद प्रचंड रूप ले लिया और यह तट की ओर बढ़ रहा है जिसके चलते ओडिशा सरकार ने पांच तटीय जिलों में लोगों से घरों को खाली कराना शुरू कर दिया है।

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने हालात का जायजा लिया। उन्होंने गंजम, पुरी, खुर्दा, केंद्रपाड़ा और जगतसिंहपुर जिलों के कलेक्टरों से तटीय क्षेत्र में निचले इलाकों में रह रहे लोगों से तुरंत घर खाली कराने के लिए कहा है।

मुख्य सचिव ए पी पाधी ने बताया कि गंजम के जिला प्रशासन ने गोपालपुर इलाके में पहले ही लोगों से घरों को खाली कराना शुरू कर दिया है। यहां चक्रवात 'तितली' के गुरुवार को करीब साढ़े पांच बजे पहुंचने की संभावना है। अभी तक करीब 1,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है।

उन्होंने कहा कि चक्रवात पहुंचने के दौरान समुद्र में करीब एक मीटर ऊंची लहरें उठने के भारतीय मौसम विभाग के अनुमान के मद्देनजर तुरंत स्थान खाली कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

मुख्य सचिव ने बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और ओडिशा आपदा त्वरित कार्रवाई बल (ओडीआरएएफ) के कर्मियों को पहले ही संवेदनशील जिलों में तैनात कर दिया गया है।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि हमने अभी तक सेना की मदद नहीं मांगी है। अगर जरूरत पड़ी तो हम सहायता मांगेंगे।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से यह भी कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी हताहत ना हो और आपदा के दौरान लोगों के रहने के लिए चक्रवात शरणार्थी शिविरों को तैयार रखने के लिए कहा है।

पटनायक ने राज्यभर में भारी बारिश के अनुमान के मद्देनजर सभी स्कूलों, कॉलेजों और आंगनवाड़ी केंद्रों को गुरुवार और शुक्रवार को बंद रखने के आदेश दिए हैं। गुरुवार को होने वाले कॉलेज छात्र संघ चुनाव भी रद्द कर दिए गए हैं।

भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवात तितली पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी पर पिछले छह घंटे के दौरान 15 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ा और वह ओडिशा के गोपालपुर के दक्षिणपूर्व से करीब 280 किलोमीटर दूर है।

तटीय ओडिशा के कुछ इलाकों में बुधवार को बारिश हुई। मौसम विभाग ने गुरुवार तक कई इलाकों में 'भारी से बहुत भारी वर्षा' और कुछ इलाकों में अत्यधिक भारी बारिश का अनुमान जताया है।

मौसम विभाग ने बताया कि गंजम, गजपति, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, खुर्दा, नयागढ़, कटक, जाजपुर, भद्रक और बालासोर जैसे जिलों में गुरुवार तक भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

Next Story
Top