Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पंजाब में वोटरों को बांटे जा रहे हैं शराब और ड्रग्स के ''कूपन''

इन कूपनों पर अलग-अलग रम और व्हिस्की के नाम लिखे हुए हैं।

पंजाब में वोटरों को बांटे जा रहे हैं शराब और ड्रग्स के
चंडीगढ़. चुनावों के दौरान अक्सर राजनीतिक पार्टियों के उम्मीदवार वोटरों को लुभाने के लिए शराब या पैसे बांटती है। ठीक ऐसा ही हो रहा है पंजाब में चुनाव आयोग को शराब और ड्रग्स के सैंकड़ों कूपन मिले हैं। इन कूपनों पर अलग-अलग रम और व्हिस्की के नाम लिखे हुए हैं। राज्य चुनाव आयोग के अधिकारियों की नजर अब शहर के ठेकों पर हैं ताकि इस बात का पता लगाया जा सके कि क्या सच में कोई इस तरह के कूपने से शराब ले रहा है क्या?
राज्‍य के मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त वीके सिंह ने बताया कि ”पहली बार हम कूपन सिस्‍टम देख रहे हैं। हमारे कॉल सेंटर पर टिप मिलने के बाद हमें इस बारे में पता चला।” उन जिलों पर ज्‍यादा नजर रखी जा रही है जो राजनीतिक रूप से ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण हैं।
चुनाव आयोग ने लांबी सीट के पास एक पुरानी कपास मिल से शराब की 10 हजार बोतलें बरामद की है। लांबी सीट से मुख्‍यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कैप्‍टन अमरिंदर सिंह आमने-सामने हैं। इसके अलावा स्‍थानीय शराब की 5355, 3480 बोतल बीयर और 1306 आइएमएफएल बोतलें भी बरामद की गई हैं।
अधिकारियों का कहना है कि यहां पर चुनावों में मतदाताओं को ड्रग्‍स का लालच भी दिया जाता है। चुनाव आयोग ड्रग्‍स के बारे में पता लगाने के लिए 22 स्निफर डॉग्‍स की मदद भी ले रहा है।
इसी महीने कैरी नाम के एक लेब्रोडॉर कुत्‍ते ने मारुति जेन से 50 किलो अफीम बरामद कराई थी। पंजाब में ड्रग्‍स बड़ी समस्‍या है। पिछले दिनों पाकिस्‍तान से आ रही एक ट्रेन में सिलेंडर के अंदर ड्रग्‍स भरी हुई थी। राजनीतिक दलों ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में इस समस्‍या के निराकरण का वादा भी किया है। वीके सिंह‍ के अनुसार, ”मतदान से ठीक पहले शराब बांटने, ड्रग्‍स तस्‍करी का काम बढ़ जाता है। लेकिन हम भी तैयार हैं।”
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top