Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पश्चिम बंगालः जहरीली शराब से मौत के मामले में चार लोगों को उम्रकैद

पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले की एक अदालत ने 2011 के जहरीली शराब से मौत के एक बड़े मामले में शुक्रवार को चार लोगों को उम्रकैद की सजा सुनायी। 13 दिसंबर, 2011 को दक्षिण 24 परगना जिले के संग्रामपुर में जहरीली शराब पीने से करीब 172 लोगों की मौत हो गयी थी।

पश्चिम बंगालः जहरीली शराब से मौत के मामले में चार लोगों को उम्रकैद

पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले की एक अदालत ने 2011 के जहरीली शराब से मौत के एक बड़े मामले में शुक्रवार को चार लोगों को उम्रकैद की सजा सुनायी। 13 दिसंबर, 2011 को दक्षिण 24 परगना जिले के संग्रामपुर में जहरीली शराब पीने से करीब 172 लोगों की मौत हो गयी थी।

दक्षिण 24 परगना जिला के अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश पार्थ सारथी चक्रवर्ती ने सभी दोषियों पर 50-50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया। अगर दोषी जुर्माना भरने में नाकाम रहे तो उन्हें छह महीने की अतिरिक्त सजा भी काटनी होगी।

अदालत ने गुरुवार को मुख्य आरोपी नूर इस्लाम फकीर उर्फ खोड़ा बादशाह एवं तीन अन्य दुखी लस्कर, खैरुल लस्कर और नजमूल उर्फ कोला लस्कर को मामले में दोषी पाया। न्यायाधीश ने उन्हें भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धाराओं 273 (जहरीले खाद्य पदार्थ या पेय पदार्थ बेचने) और 304 (गैर इरादतन हत्या) और बंगाल उत्पाद शुल्क अधिनियम के तहत दोषी ठहराया।

नकली शराब बनाने वाले खोड़ा बादशाह को आईपीसी की धारा 326 (जानबूझकर खतरनाक हथियार या तरीकों से गंभीर नुकसान पहुंचाना) और 328 (जहर देकर कष्ट पहुंचाना) के तहत भी दोषी ठहराया। बहरहाल अदालत ने साक्ष्यों के अभाव में छह अन्य को बरी कर दिया।
सजा सुनाये जाने के बाद मुख्य अभियुक्त खोड़ा बादशाह ने कोई भाव प्रकट नहीं किया जबकि अन्य तीनों रो पड़े। उन्होंने बाद में संवाददाताओं को बताया कि वे उच्च न्यायालय में याचिका दायर करेंगे।
उधर, जहरीली शराब से मरने वाले लोगों के परिजनों ने दोषियों विशेषकर बादशाह को मौत की सजा की मांग की।
Next Story
Top