Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अब राम जेठमलानी नहीं लड़ेंगे कोई केस, बताया ये कारण

मौजूदा और पिछली सरकारों ने देश को बहुत नीचा दिखाया है।

अब राम जेठमलानी नहीं लड़ेंगे कोई केस, बताया ये कारण

देश के जाने-माने वकील राम जेठमलानी ने अदालत को अलविदा कह दिया। 94 साल के राम जेठमलानी ने दिल्ली में भारत के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के सम्मान में रखे गए बार काउंसिल ऑफ इंडिया के एक कार्यक्रम में अपने 76 साल के अदालती करियर से संन्यास लेने की घोषणा की और कहा कि अब वो भ्रष्ट नेताओं से लड़ते रहेंगे।

इस मौके पर पूर्व बीजेपी नेता और वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने मौजूदा एनडीए सरकार को कोसा।

बता दें कि इसी हफ्ते सुप्रीम कोर्ट में एक मामले की सुनवाई के दौरान राम जेठमलानी ने जस्टिस कुरियन जोसेफ को कहा था कि ये उनका आखिरी मुकदमा है और अब वो कोई भी मुकदमा लड़ने के लिए नही लेंगे।

इसे भी पढ़ें- दुश्मनों की अब खैर नहीं, सीमा पर सैटेलाइट द्वारा निगरानी

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार राम जेठमलानी ने कहा कि देश अच्छी स्थिती में नहीं है। मौजूदा और पिछली सरकारों ने देश को बहुत नीचा दिखाया है। बार के सदस्यों और सभी अच्छे नागरिकों की जिम्मेदारी है कि वो देश को इस विपत्ति से उबारें।

इसके बाद उन्हेंने कहा कि मैं यहां सिर्फ ये बताने के लिए हूं कि मैं अपने पेशे से अलविदा ले रहा हूं लेकिन मैं अपने जिंदा रहने तक नई भूमिका में रहूंगा। मैं भ्रष्ट नेताओं से लड़ूंगा जो सत्ता के पदों पर लाए गए हैं।

राम जेठमलानी इस समय बिहार से राज्यसभा सांसद है और देश के सबसे महंगे वकील हैं। संवैधानिक, क्रिमिनल, सिविल आदि तमाम मामलों के महारथी जेठमलानी ने कहा कि वो सलाह मांगने वाले वकील को सलाह देते रहेंगे।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली: संसद मार्ग स्थित एसबीआई बिल्डिंग में लगी आग

बता दें कि राम जेठमलानी ने कई हाई प्रोफाइल केसों में बहस की है। और वे अटल बिहारी भाजपा सरकार में कानून मंत्री भी रहे हैं।

Next Story
Top