Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोर्ट में कल से काम नहीं करेंगे वकील

वकील की बात नहीं मानी गई तो 2 मई को केंद्रीय विधि आयोग और संसद भवन का घेराव करेंगे।

कोर्ट में कल से काम नहीं करेंगे वकील

केंद्र सरकार की नीति का देशभर के अधिवक्ता विरोध कर रहे हैं। बार काउंसिल ऑफ इंडिया के निर्देश पर 21 अप्रैल को देशभर के अधिवक्ता कार्य से विरक्त रहेंगे।

वे उस दिन किसी भी कोर्ट में प्रवेश नहीं करेंगे। इसके बाद केंद्र सरकार को 1 मई तक चेतावनी दी जाएगी। इसके बाद भी बात नहीं बनी, तो अधिवक्ता 2 मई को केंद्रीय विधि आयोग और संसद भवन का घेराव करेंगे।
विधि आयोग ने बार काउंसिल ऑफ इंडिया और स्टेट बार काउंसिल को समाप्त कर प्रदेश को पांच समूह में विभाजित कर कमीशन बनाने की सिफारिश की है।
इसमें अधिवक्ताओं सहित दीगर फील्ड के लोगों को शामिल करने की बात कही है। साथ ही अनुपस्थिति के मामले में पक्षकार को हानि होने पर अधिवक्ताओं से हर्जाना वसूलने की बात भी कही जा रही है।
इन सभी अधिवक्ता विरोधी बातों को लेकर देशभर में विरोध हो रहा है। स्टेट बार काउंसिल के चेयरमैन कोसराम साहू ने बताया, बार काउंसिल ऑफ इंडिया के निर्देश पर किसी भी बार का अधिवक्ता किसी भी कोर्ट में पैरवी करने के लिए प्रवेश नहीं करेगा।
पूरा दिन वह अपने न्यायालयीन कार्य से विरक्त रहेगा। उस दिन केंद्र सरकार को 1 मई तक के लिए चेतावनी दी जाएगी। इसके बाद भी सरकार ने हमारी चेतावनी को नजरअंदाज किया, तो 2 मई को संसद और विधि आयोग का घेराव करेंगे।
फिर भी बात नहीं बनी, तो सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया जाएगा। छत्तीसगढ़ के सभी बार में 21 अप्रैल को अधिवक्ता अपने कार्य से विरत रहेंगे।
Next Story
Top