Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

प्रद्युम्न हत्याकांड: रयान स्कूल के मालिक पिंटो ने खेला ऐसा दांव, साफ-साफ बच गया

रयान पिंटो के वकील ने बॉम्बे हाईकोर्ट में कहा कि पिंटो रयान इंटरनेशनल स्कूल के ट्रस्टी नहीं हैं।

प्रद्युम्न हत्याकांड: रयान स्कूल के मालिक पिंटो ने खेला ऐसा दांव, साफ-साफ बच गया

हरियाणा में गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के बच्चे प्रद्युम्न हत्याकांड को लेकर रयान पिंटो के वकील ने बड़ा बयान दिया है। वकील ने कहा कि रयान पिंटो का रयान इंटरनेशनल स्कूल से कुछ भी लेना देना नहीं है।

रयान पिंटो के वकील नितिन प्रधान ने कहा रयान पिंटो स्कूल की किसी भी संस्था के ट्रस्टी नहीं हैं और नहीं ही वो किसी पद पर हैं। ऐसे में वो कैसे जिम्मेदार हैं। रयान ग्रुप के मैनेजमेंट में ये पांच लोग हैं। जिसमें संस्थापक ऑगस्टीन एफ पिंटो हैं और दूसरी नंबर पर हैं ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूटस की ग्रेस पिंटो और सीईओ हैं रयान पिंटो।

रायन इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के प्रद्युम्न की हत्या के मामले में हरियाणा की पुलिस मुंबई पहुंची हैं। जहां जांच टीम ने स्कूल के मैनेजमेंट से पूछताछ की है। वहीं हाईकोर्ट ने सीईओ रायन पिंटो की गिरफ्तारी पर एक दिन की राहत दी है।

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बीते शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाला 7 साल के प्रद्युम्न के साथ कुकर्म की कोशिश करने के बाद उसकी गला रेतकर हत्या कर दी गई थी।

जब मामले ने तूल पकड़ा तो पुलिस ने बस कंडक्टर अशोक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया, जिसके बाद अशोक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

वहीं मृत छात्र के परिजनों का कहना है कि बस कंडक्टर ने प्रद्युम्न की हत्या नहीं की है, बस कंडक्टर का स्कूल के बाथरूम में क्या काम। परिजनों ने इस केस की सीबीआई जांच की मांग की है।

Next Story
Share it
Top