Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लालू के बेटे तेज प्रताप को मिली ''Y'' सुरक्षा, मिली थी धमकी

लालू के बेटे को एक दर्जन सशस्त्र कमांडो की सुरक्षा मिलेगी।

लालू के बेटे तेज प्रताप को मिली
पटना. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप को वाई श्रेणी की वीआइपी सुरक्षा प्रदान की है। तेजप्रताप को करीब एक दर्जन सशस्त्र कमांडो की सुरक्षा मिलेगी। तेजप्रताप को बिहार और झारखण्ड के नक्सलियों से जान का खतरा बताया गया है।
राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव को 'वाई' कैटेगरी की वीआईपी सुरक्षा प्रदान की गई है। तेजप्रताप को करीब एक दर्जन सशस्त्र कमांडो का दस्ता मिलेगा, जो उन्हें बिहार में कहीं भी आने जाने के दौरान सुरक्षा प्रदान करेगा। नयी सुरक्षा व्यवस्था के अन्तर्गत अब तेज प्रताप यादव पहले से बड़े कारकेड और पहले से अधिक सुरक्षा घेरे के साथ चलेंगे।
खबर के मुताबिक सीआरपीएफ के महानिदेशक ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि तेज प्रताप यादव की सुरक्षा व्यवस्था को केंद्र सरकार ने भी मंजूरी दी है। केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों द्वारा तैयार एक रिपोर्ट में तेजप्रताप को बिहार और झारखण्ड के नक्सलियों से जान का खतरा बताया गया है। तेजप्रताप के पिता लालू प्रसाद यादव को 'जेड प्लस' श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है। केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों की रिपोर्ट में कहा गया कि तेजप्रताप को बिहार और पड़ोसी राज्य झारखंड में माओवादियों से खतरा है।
ज्ञात हो कि राज्य सरकार भी गृह विभाग से हरी झंडी मिलने के बाद किसी व्यक्ति को वाई श्रेणी की सुरक्षा देती है। वाई श्रेणी की सुरक्षा में कुल ग्यारह पुलिसकर्मी मौजूद रहते हैं। जिस व्यक्ति को ये सुरक्षा दी जाती है उसकी सुरक्षा में पुलिस की एक जीप और ड्राइवर भी उपलब्ध कराया जाता है। सुरक्षा में दो सब इंस्पेक्टर, दो हेड कांस्टेबल, चार कांस्टेबल और दो होमगार्ड होते हैं।
बिहार में तेजप्रताप के अलावा सांसद पप्पू यादव, लोजपा सांसद चिराग पासवान, भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय, कांग्रेस अध्यक्ष सह मंत्री अशोक चौधरी, सांसद जनार्दन सिग्रीवाल जैसे कई नेताओं को केंद्र सरकार की तरफ से वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गयी है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top