Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नोटबंदी: मजदूर के जनधन खाते में साढ़े 3 करोड़ रुपये मिले

आयकर विभाग ने नोटबंदी के बाद पूरे भारत में जन-धन खातों में जमा होने वाले धन पर जांच शुरू कर दी है।

नोटबंदी: मजदूर के जनधन खाते में साढ़े 3 करोड़ रुपये मिले
नई दिल्ली. नोटबंदी के बाद से देशभर के मुफ्त जनधन खातों में तेजी से पैसा आना शुरु हो चुका है। लेकिन ताजा मामला उत्तर प्रदेश का है जहां एक मजदूर के पास से करोड़ों रुपये बरामद हुए हैं। उत्तर प्रदेश के एटा में स्थित एक निजी बैंक के जनधन खाते में साढ़े तीन करोड़ से अधिक रुपया जमा किए गए हैं। मीडिया को मिली जानकारी के मुताबिक, अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मलावन क्षेत्र के छछैना गांव निवासी अरविंद कुमार के आईसीआईसीआई बैंक में जनधन खाते में तीन करोड़ 72 लाख 960 रुपए जमा होने की सूचना मिली।
बता दें कि आयकर विभाग को इसकी जानकारी दी गई है। इस मामले की जांच के लिए अलीगढ़ मंडल से आयकर विभाग के उप निदेशक अजय कुमार यहां पहुंचे हैं। उन्होंने बताया कि अरविन्द दिल्ली में तिरपाल सीने का काम करता है। एक साल पहले उसने आईसीआईसीआई बैंक में जनधन खाता खुलवाया था। उसके पास इस खाते का पहले से ही एक एटीएम कार्ड था। दो दिन पहले नोटबंदी के चलते काम नहीं मिलने पर अरविन्द अपने घर एटा लौट आया था।
अरविंद के घर के पते पर दूसरा एटीएम कार्ड आया। वह गुरुवार को दूसरे एटीएम कार्ड की जानकारी के लिए बैंक पहुंच गया। वहां खुलासा हुआ कि उसके खाते में दो बार में यह रकम जमा कराई गई है। बैंक में जनधन खाते में इतनी बड़ी रकम जमा होने से हड़कंप मच गया। बैंक ने उसके खाते को तत्काल फ्रीज कर दिया और आयकर विभाग को इसकी जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि इस मामले में यह पता लगाना है कि आखिर किस ने इस जनधन खाते में इतनी बड़ी रकम जमा की है। उन्होंने कहा कि मामले का मूल्यांकन कर कार्रवाई और खाता सीज किया जा सकता है। इसके अलावा पेनाल्टी भी लगाई जा सकती है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top