Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

6 किलोमीटर पैदल चलकर स्कूल जाते थे कोविंद, जानें उनके जीवन के कुछ अनसुने पहलू

कोविंद का जन्म 1 जनवरी 1945 को कानपुर के डेरापुर में हुआ था।

6 किलोमीटर पैदल चलकर स्कूल जाते थे कोविंद, जानें उनके जीवन के कुछ अनसुने पहलू
X

सोमवार को हुए राष्ट्रपति चुनाव की मतगणना आज सुबह 11 बजे से शुरू हो चुकी है। नए राष्ट्रपति के नाम की घोषणा शाम पांच बजे कर दी जाएगी। कयास लगाए जा रहे हैं कि रामनाथ कोविंद का राष्ट्रपति बनना लगभग तय हैं। ऐसे में आपका ये जान लेना जरूरी है कि आखिर कोविंद हैं कौन।

बिहार के राज्यपाल रहे कोविंद ने समाज सेवी, वकील और राज्यसभा सांसद की भूमिका निभाई है। कोविंद उत्तर प्रदेश के कानपुर निवासी हैं और उनके बारे में कहा जाता है कि वो बहुत ही साधारण और मृदुभाषी हैं।
रामनाथ कोविंद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पहले राष्ट्रपति होंगे। कोविंद का जन्म 1 जनवरी 1945 को कानपुर के डेरापुर में हुआ था। कोविंद काफी गरीब परिवार के हैं। उन्होंने वो वक्त देखा है जब देश अंग्रेजों का गुलाम था उस समय दलित होना किसी अभिशाप से कम नहीं था।
कोविंद के बारे में बताया जाता है कि वो 6 किलोमीटर पैदल चलकर स्कूल जाते थे और फिर पैदल ही 6 किलोमीटर वापस आते थे। रामनाथ कोविंद एक नामी वकील रह चुके हैं लेकिन जायदाद की बात करें तो उनके पास कुछ भी नहीं है। उन्होंने अपना एक घर गांववालों को दान कर दिया।
अब रामनाथ कोविंद देश की तकदीर लिखने जा रहे हैं जिंदगी में लाख अड़चने आने के बाद भी कोविंद आज देश के राष्ट्रपति पद पर बैठ सकते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story