Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसान क्रांति पदयात्रा: दिल्ली-यूपी सीमा पर पुलिस और किसानों के बीच घमासान जारी

दिल्ली उत्तर प्रदेश सीमा पर गाजीपुर में पुलिस जवानों और किसानों के बीच हिंसक झड़पें हुई किसान अपनी पद यात्रा के दौरान राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में घुसने का प्रयास कर रहे थे।

किसान क्रांति पदयात्रा: दिल्ली-यूपी सीमा पर पुलिस और किसानों के बीच घमासान जारी

दिल्ली उत्तर प्रदेश सीमा पर गाजीपुर में पुलिस जवानों और किसानों के बीच हिंसक झड़पें हुई किसान अपनी पद यात्रा के दौरान राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में घुसने का प्रयास कर रहे थे। इस दौरान किसानों के एक समूह ने दिल्ली सीम पर पुलिस द्वारा लगाई बैरिकेटिंग भी तोड़ दी।

पुलिस जवानों ने दिल्ली-यूपी सीमा पर किसानों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसूगैस और वाटर कैनन का भी इस्तेमाल किया। इस घटना में कई किसानों के साथ मेरठ का एक पत्रकार भी घायल हो गया है।

इसे भी पढ़ें- किसानों के समर्थन में आए केजरीवाल, कहा- रैली को दिल्ली में प्रवेश करने से रोकना गलत

दिल्ली यूपी सीमा पर हालत संभालने के लिए प्रशासन ने रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) तथा पुलिस के अतिरिक्त जवानों की तैनाती की है। हालांकि मेरठ एडीजी ने किसानों को बिना ट्रैक्टर दिल्ली में घुसने की अनुमति दे दी है।

किसानों ने अपनी मांगों को लेकर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले मंगलवार को किसान क्रांति पदयात्रा का आयोजन किया हैं। इस यात्रा में हजारों की संख्या में किसान जुटे हुए हैं।

किसान क्रांति पदयात्रा के दौरान हुए हिंसक प्रदर्शन को लेकर भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने किसानों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

इसे भी पढ़ें- किसान रैली: यूपी के गेट के पास प्रदर्शन कर रहे किसान पीछे लौटे, पुलिसवालों पर पथराव

टिकैत ने कहा की हम अपनी समस्याएं सरकार को नहीं बताएंगे तो किसे बताएंगे साथ ही उन्होंने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से किसान नेता होने के नाते उचित समाधान की उम्मीद जताई है।

आपको बता दें कि 1 अक्तूबर को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और किसानों के बीच वार्ता हुई थी। इस वार्ता के विफल हो जाने के बाद किसानों ने दिल्ली तक पद यात्रा निकलने का एलान किया था। किसानों की इस पद यात्रा को देखते हुए दिल्ली उत्तर प्रदेश सीमा पर धारा 144 लागू कर दी गई थी।

Next Story
Top