Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जेटली की संपत्ति में 144 करोड़ का इजाफा, आजाद बोले- जांच हो

कीर्ति आजाद ने कहा कि पीएम का फैसला सही है।

जेटली की संपत्ति में 144 करोड़ का इजाफा, आजाद बोले- जांच हो
X
मिर्जापुर. हमेशा अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले भाजपा के निलंबित सांसद कीर्ति झा आजाद ने मिर्जापुर में कहा है कि अरुण जेठली अभी तक के सबसे अक्षम वित्तमंत्री हैं। जहां तक मुझे लगता है एक वकील को कभी भी वित्त मंत्रालय का प्रभार नहीं सौंपना चाहिए। सरकार को तत्काल इन्हें पद से हटा देना चाहिए। इनकी जगह किसी योग्य आदमी को वित्त विभाग का दायित्व सौंपा जाना चाहिए।
हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक, दरभंगा में मिर्जापुर स्थित एक रेस्टोरेंट में रविवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए कीर्ति आजाद ने कई सवाल उठाए। कीर्ति ने कहा कि जिन लोगों या संस्था ने मिलकर काला धन को सफेद किया है, ऐसे लोगों के खिलाफ प्रधानमंत्री क्या कारवाई करेगें, यह एक सांसद का प्रधानमंत्री से सवाल है। वित्त मंत्रालय और आरबीआइ में कोई तालमेल नहीं हैं। इसका खामियजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है। स्थिति यह है कि आंगनबाड़ी केंद्रों में पोषाहार तक की राशि नहीं दी जा रही है। सभी योजनाएं ठप पड़ी हैं।
एक सवाल का जबाब देते हुए उन्होंने कहा कि वित्तमंत्री अरुण जेठली की संपति की जांच होनी चाहिए। दो वर्ष के दरमियान उनकी संपत्ति में 144 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है। उन्होंने कहा कि डीडीसीए की जांच में अगर अरुण जेठली दोषी साबित नहीं हुए तो वे अपनी मूंछें मुडवा लेंगे। उन्होंने कहा कि बैंकों की मिलीभगत से करोड़ों रुपये की हेड़ाफेड़ी हुई, इसका जवाब तो देना होगा। आजाद ने कहा कि पीएम का फैसला सही हैं, लेकिन नोटबंदी को सही ढ़ग से देश में लागू नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि वित्तमंत्री की अक्षमता के कारण देश की ऐसी हालत बनी हैं। उन्होंने कहा कि इसके कारण बेरोजगारी बढ़ रही है, बाजार में सन्नाटा पसरा हुआ हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top