logo
Breaking

आलीशान जिंदगी जीता था ये हत्यारोपी, कीमती कॉलगर्ल बुला करता था मौज मस्ती

पटना के प्रॉपर्टी डीलर प्रवीण विश्वकर्मा की हत्याकांड में क्राइम ब्रांच की टीम ने मुख्य आरोपी वरूण उर्फ वर्धमान को अरेस्ट कर लिया है।

आलीशान जिंदगी जीता था ये हत्यारोपी, कीमती कॉलगर्ल बुला करता था मौज मस्ती

फरीदाबाद। क्राइम ब्रांच की टीम को पटना के प्रॉपर्टी डीलर प्रवीण विश्वकर्मा की हत्या के मामले में अहम कामयाबी मिली है। टीम ने हत्याकांड के मुख्य आरोपी वरुण और उसके साथी गजेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है। वरुण ने पूछताछ में बताया कि उसे शुरु से ही बॉलीवुड सेलिब्रिटीज की लाइफ पसंद थी और वह उनकी तरह जीवन जीना चाहता था। इसके लिए वह महंगी-महंगी गाड़ियों में सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस का बेटा बनकर घूमता था।

ये भी पढ़ें- खुलासा: सबसे ज्यादा महिलाओं ने देखा Porn वीडियो, ये देश सबसे आगे

पुलिस को पूछताछ में मुख्य आरोपी वरुण ने बताया कि वह 10-10 हजार कीमत की लड़कियां मंगाकर खूब मौज-मस्ती करता था। उसे बड़े-बड़े होटलों में जाकर खाने का भी खूब शौक था। अपने चार बाउंसरों को रोज हजार से 1200 रुपए देता था।

क्राइम ब्रांच डीएलएफ के इंचार्ज अशोक कुमार ने बताया कि मुख्य आरोपी वरुण महीनेभर तक नहाता नहीं है। क्योंकि उसे पानी से एलर्जी है। नहाते ही उसके शरीर पर लाल निशान पड़ जाते है। इसके अलावा उसे दौरे भी पड़ते हैं।
वरुण ने बताया कि दिसंबर में वह फिल्म स्टार संजय दत्त और शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा से मुंबई के एक होटल में 2 मिनट के लिए मिला था। उसने दाेनों को बताया था कि वह फिल्म इंडस्ट्री में इंवेस्ट करना चाहता है लेकिन दोनों स्टार्स ने उसे हल्के में लिया और बस इतना कहा कि वह उनके पीए से बात कर ले।
पटना के गांव बैरिए और थाना सम्पाचक के रहने वाले प्रॉपर्टी डीलर प्रवीण को उसके जानकार वरुण सिंह ने 29 नंवबर को फ्लाइट से दिल्ली बुलाया और फरीदाबाद में सूरजकुंड-पाली रोड पर पेट में दो गोली मारकर हत्या कर दी थी।
हत्याकांड में उसके 4 बाउंसर सहित पांच लोग शामिल थे। प्रवीण और वरुण के बीच करीब 94 लाख रुपए का लेन-देन हत्या की वजह बना था। इससे पहले 9 दिसंबर को पुलिस ने इस मामले में मुंबई के अंधेरी वेस्ट के रहने वाले मोहम्मद इमरान, उत्तम नगर दिल्ली के रहने वाले मोहित और अगवानपुर के इस्माइलपुर के रहने वाले फिरोज को अरेस्ट कर लिया था।
इस मामले में एक और बाउंसर रणधीर की गिरफ्तारी बकाया है। उसके खिलाफ सूरजकुंड थाने में धारा 302, 201, 120बी, 25/54/59 आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया था।
Loading...
Share it
Top