Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केरल: मेडिकल कॉलेज ने रैगिंग करने पर 21 स्टूडेंट्स को किया सस्पेंड

कॉलेज प्रशासन ने एमबीबीएस के सीनियर छात्रों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की तैयारी कर ली है।

केरल: मेडिकल कॉलेज ने रैगिंग करने पर 21 स्टूडेंट्स को किया सस्पेंड
नई दिल्ली. केरल के मेडिकल कॉलेज में एक बार फिर रैगिंग की घटना सामने आई है। रैगिंग के मामले में मेडिकल कॉलेज से 21 छात्रों को सस्पेंड कर दिया गया है। ये मामला उस घटना के दो दिन बाद सामने आया है जिसमें फर्स्ट ईयर स्टूडेंट्स को जबरदस्ती घंटों शराब पिलाकर उनके कपड़े उतारे गए थे। यह कार्रवाई 40 स्टूडेंट्स के शिकायत के बाद की गई।
कॉलेज प्रशासन ने एमबीबीएस के सीनियर छात्रों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की तैयारी कर ली है। 40 जुनियर स्टूडेंट्स ने इन सीनियर स्टूडेंट्स के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है कि सीनियर स्टूडेंट्स ने उनके साथ रैगिंग की। रैगिंग के नाम पर उनसे लड़कों के टॉयलेट साफ कराए और कपड़े भी उतारने को कहे। स्टूडेंट्स का आरोप है कि सीनियर्स ने उन्हें जबरदस्ती टॉयलेट का गंदा पानी तक पीने को कहा।
एनडीटीवी के अनुसार, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक, जिस जगह पर फ्रेशर रहते हैं वहां की वार्डन को इस बात का ख्याल रखना होता है कि स्टूडेंट्स को किसी तरह की परेशानी ना हो। रात को निश्चित वक्त के बाद सीनियर्स और आउट साइडर्स की एंट्री भी बंद कर दी जाती है। ऐसी किसी घटना को रोकने के उद्देश्य से ही ऐसे नियम बनाए गए हैं।
कॉलेज ऑथोरिटी ने मामले की जांच के लिए एक टीम तैयार की है। इसी टीम ने सैंकेड और थर्ड ईयर के स्टूडेंट्स को बाहर निकालने का फैसला किया है। खबर ये भी है कि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया भी इस मामले में कड़े कदम उठा सकता है।
पिछले दिनों भी रैगिंग का एक ऐसा ही मामला सामने आया था। इस बीच, खबर आई कि एक मेडिकल स्टूडेंट जो पहले रैगिंग का शिकार हुई थी, उसकी किडनी फेल हो गई है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top