Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मलंकारा चर्च केस: बलात्कार के 2 आरोपी पादरियों ने किया आत्मसमर्पण, जानें पूरा मामला

केरल के मलंकारा ऑर्थोडॉक्स चर्च के दो पादरियों ने तिरुवल्ला कोर्ट के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। सुप्रीम कोर्ट ने एस वर्गीज और जॉर्ज की अग्रिम जमानत याचिका खारिज करते हुए सरेंडर करने का आदेश दिया था।

मलंकारा चर्च केस: बलात्कार के 2 आरोपी पादरियों ने किया आत्मसमर्पण, जानें पूरा मामला

केरल के मलंकारा ऑर्थोडॉक्स चर्च के दो पादरियों ने तिरुवल्ला कोर्ट के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। सुप्रीम कोर्ट ने एस वर्गीज और जॉर्ज की अग्रिम जमानत याचिका खारिज करते हुए सरेंडर करने का आदेश दिया था।

इसे भी पढ़ें: सोमनाथ चटर्जी का निधन : राष्ट्रपति और पीएम मोदी समेत इन बड़े नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

सुप्रीम कोर्ट और हाइकोर्ट की तरफ से कोई रियायत नहीं दिये जाने के बाद तिरुवल्ला कोर्ट में अपना समर्पण कर दिया। इन दोनों पादरियों पर एक महिला के साथ दुष्कर्म और उसे ब्लैकमेल करने का आरोप है।
फादर सोनी वर्गीज ओर फादर जेके जॉर्ज केरल में मलंकारा ऑर्थोडॉक्स सीरियन चर्च से जुड़े हैं। राष्ट्रीय महिला आयोग के कन्फेशन की परंपरा पर सवाल उठाने के बाद से यह मामला मीडिया में आया।
राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने चर्च में बढ़ती यौनात्याचार की घटना पर इसकी जांच केंद्रीय एजेंसी से कराने की बात कही थी। अध्यक्ष रेखा ने कहा कि पहले महिलाओं पर गोपनीय बात बताने का दबाव डाला जाता है मगर फिर उनका शोषण किया जाता है।
इस पर पादरियों ने विरोध ने विरोध करते हुए इसे भारतीय परंपरा के खिलाफ बताया। पादरियों ने इस प्रस्ताव पर केंद्र सरकार से तत्काल रोक लगाने की मांग की है।

यह है मामला

एक निजी चैनल के मुताबिक शादीशुदा 34 वर्षीया महिला ने शिकायत में आरोप लगाया था कि अब्राहम वर्गीज़ जो कि उनके रिश्तेदार भी हैं, उनका तब से यौन शोषण कर रहे हैं जब वह 16 साल की थीं।
इसका कन्फेशन जब उन्होंने जॉब मैथ्यू के सामने किया तो जॉब ने भी ब्लैकमेल कर यौन शोषण किया। इसके बाद कॉलेज के जूनियर जॉनसन वी. मैथ्यू ने भी उनका शोषण किया।
हद तो तब हो गई जब पीड़िता ने इसकी शिकायत पादरी और काउंसलर जेस मैथ्यू से की तो उन्होंने भी यौन शोषण किया। इसके बाद पुलिस ने उस चर्च के चार पादरियों के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज किया।
Next Story
Top