Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केरलः कई इलाकों में भीषण बारिश से तबाही, 1.18 लाख लोग राहत शिविरों में काट रहे जिंदगी

केरल के कई इलाकों में बाढ़ जैसे खतरनाक हालात हो गए हैं लाखों लोग राहत शिविर में रहने को विविश हैं। राहत टीम अभी भी लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने का काम कर रही है। रेलवे ट्रैक से लेकर स्टेशन परिसर जलमग्न हो गए हैं। इसके बाद करीब 12 ट्रेनों को रद्द भी किया गया।

केरलः कई इलाकों में भीषण बारिश से तबाही, 1.18 लाख लोग राहत शिविरों में काट रहे जिंदगी

देशभर में कई दिनों से भीषण बारिश ने जन जीवन त्रस्त कर दिया है। खबर आ रही है कि केरल के कई इलाकों में बाढ़ जैसे खतरनाक हालात हो गए हैं लाखों लोग राहत शिविर में रहने को विविश हैं। राहत टीम अभी भी लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने का काम कर रही है। रेलवे ट्रैक से लेकर स्टेशन परिसर जलमग्न हो गए हैं। इसके बाद करीब 12 ट्रेनों को रद्द भी किया गया।

यह भी पढ़ें-भारी बारिश के कारण 12 ट्रेन रद्द, एर्णाकुलम जिला के सभी स्कूलों को जिला प्रशासन ने बंद करने का निर्देश

केरल के कई इलाकों में भारी बारिश की वजह से 1.18 लाख लोग राहत शिविरों में रहने को मजबूर हैं। आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। मानसूनी बारिश के दूसरे चरण में नौ जुलाई से अब तक दक्षिणी राज्य में 39 लोगों की जान जा चुकी है। केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून ने 29 मई को दस्तक दी थी। उन्होंने कहा कि आज सुबह तक अलप्पुझा में खोले गए 212 राहत शिविरों में कुल 50,836 लोग रह रहे हैं जबकि निकटवर्ती कोट्टायम में खोले गए 164 शिविरों में 37,657 लोगों ने शरण ले रखी है।

राज्य के ये दोनों जिले बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। इन जिलों में कई जगहों पर जलभराव से कोई राहत नहीं मिल रही। कमर तक पानी में महिलाओं और बच्चों की तस्वीरें इन दिनों यहां का सामान्य नजारा है। कई जगहों पर राज्य परिवहन निगम की बस सेवाएं भी बारिश की वजह से बंद करनी पड़ी हैं। मौसम विभाग ने कल तक राज्य के कुछ इलाकों में भारी से बेहद भारी बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया है।

बता दें कि भारी बारिश के कारण उत्तराखंड, ओडिशा, महाराष्ट्र, असम जैसे कई राज्यों के कई इलाके जलमग्न हो गए हैं। हालांकि सरकार लोगों के लिए राहत पहुंचाने का काम कर रही है। एनडीआरएफ व अन्य टीम लोगों के मदद के लिए काम कर रही है।

Next Story
Top