Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केरल में बाढ़ को लेकर रेड अलर्ट हटा, ऑरेंज अलर्ट जारी, जानें क्या है ये

केरल में बाढ़ से तबाही का मंजर हर तरफ फैला है मगर एक राहत की खबर यह है कि केरल के सभी जिलों से रेड अलर्ट को हटा लिया गया है।

केरल में बाढ़ को लेकर रेड अलर्ट हटा, ऑरेंज अलर्ट जारी, जानें क्या है ये

केरल में बाढ़ से तबाही का मंजर हर तरफ फैला है मगर एक राहत की खबर यह है कि केरल के सभी जिलों के लिए रेड अलर्ट को हटा लिया गया है। हालांकि अभी भी 10 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी है।

वहीं दो जिलों के लिए पीला अलर्ट अब भी जारी है। केरल में बाढ़ और बारिश के कारण स्थिति अभी भी नाजुक ही है। लोगों को राहत शिविर पहुंचाया जा रहा है।

जानें कलर से खतरे का लेवल

ग्रीन - कोई खतरा नहीं

येलो अलर्ट - खतरे के प्रति सचेत रहें। यह अलर्ट वॉच का सिग्नल है।

ऑरेंज अलर्ट - खतरा, तैयार रहें। जैसे-जैसे मौसम और खराब होता है तो येलो अलर्ट को अपडेट करके ऑरेंज कर दिया जाता है। इसमें लोगों को इधर-उधर जाने के प्रति सावधानी बरतने को कहा जाता है।

रेड अलर्ट - खतरनाक स्थिति। जब मौसम खतरनाक स्तर पर पहुंच जाता है और भारी नुकसान होने की आशंका होती है तो रेड अलर्ट जारी किया जाता है।

पीएम मोदी ने हवाई सर्वेक्षण कर तत्काल 500 करोड़ देने का ऐलान किया था। इससे पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी हवाई सर्वेक्षण कर 100 करोड़ राहत का ऐलान कर चुके हैं।

इसे भी पढ़ें: इस बच्ची ने साढ़े तीन घंटे में 1111 तीर दागे, बनाया अनोखा रिकॉर्ड, जानें कौन है ये

वहीं अन्य राज्य भी दुख की इस घड़ी में केरल की तरफ मदद का हाथ बढ़ा रहे हैं। महाराष्ट्र, बिहार, झारखंड से लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों ने राहत राशि केरल को दी।

आपको बता दें कि केरल में मरने वालों की संख्या 357 पहुंच चुकी है। सेना पूरी जी जान से लोगों को राहत शिविर पहुंचाने का काम कर रही है। एनडीआरफ से लेकर जल सेना के जवान दिन रात कड़ी मेहनत कर बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए प्रयासरत हैं।

बाढ़ से केरल में अब तक 96 हजार किलोमीटर की सड़कें टूट चुकी हैं। राज्य सरकार ने बाढ़ से हुए नुकसान के कारण सुविधाओं को बहाल करने के लिए 2000 रुपये केंद्र सरकार से मांगा है।

Next Story
Top