Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केरल: आवारा कुत्तों को मारकर निकाला गया जुलूस

यहां के लोग कुत्तों के आतंक हर वक्त डरे रहते हैं

केरल: आवारा कुत्तों को मारकर निकाला गया जुलूस
X
कोट्टायम. केरल में एक बेहद ही अमानवीय घटना देखने को मिली है। दरअसल, यहां पर आवारा कुत्तों के आतंक के खिलाफ एक ऐसा विरोध प्रदर्शन किया गया जिसे देखकर किसी का भी दिल पसीज जाएगा। केरल कांग्रेस (एम) के एक दर्जन से भी ज़्यादा कार्यकर्ताओं ने कोट्टायम जिले में सोमवार को पहले कम से कम पांच कुत्तों को मार डाला और फिर उनके शवों को पैरों से एक बांस पर बांधकर सड़कों पर जुलूस निकाला।
एनडीटीवी के मुताबिक, प्रदर्शनकारियों ने बताया कि आवारा कुत्तों का आतंक इस पूरे राज्य में इतना ज्यादा बढ़ गया है कि यहां के लोग कुत्तों के आतंक के डर के साए में हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं के मुताबिक आवारा कुत्तों की संख्या और उनके काटने की वारदात की तादाद बढ़ती जा रही है, और इसीलिए उन्होंने इन कुत्तों को मारा। जुलूस के बाद वे कुत्तों के शवों को पोस्ट ऑफिस के बाहर छोड़ गए, जो निगम कार्यालय के सामने स्थित है।
विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे साजी मांजाकादाम्बिल ने कहा, "हमने इन कुत्तों को मारा है और यह चेतावनी है कि ऐसा तब तक जारी रहेगा, जब तक केंद्र और राज्य सरकार आवारा कुत्तों की समस्या पर काबू नहीं पा लेते।"
यह विरोध प्रदर्शन राज्य के मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन के लिए खुली चुनौती जैसा है, क्योंकि कुछ ही समय पहले उन्होंने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक पर अपने पेज के ज़रिये कहा था कि केरल में आवारा कुत्तों को गैरकानूनी ढंग से मार डालने की अनुमति नहीं दी जाएगी। लेकिन फिलहाल उन लोगों के खिलाफ कोई पुलिस केस दर्ज नहीं किया गया है, जिन्होंने इन कुत्तों को मार डालने का दावा किया है।
दरअसल, लोगों पर आवारा कुत्तों के हमलों की वारदात लगातार बढ़ते चले जाने से राज्य की आबादी के बड़े हिस्से में गुस्सा है, जिससे यह राजनैतिक मुद्दा बनता जा रहा है।
पिछले महीने तिरुअनंतपुरम में 65-वर्षीय एक महिला की मौत हो जाने के बाद केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी और पशुप्रेमियों के विरोध को खारिज करते हुए राज्य सरकार ने कहा था कि वह हिंसक कुत्तों को मार डालेगी। मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन ने भी सभी विभागाध्यक्षों की आपातकालीन बैठक बुलाई थी, जिसमें हमलों को लेकर नागरिकों में व्याप्त डर पर को दूर करने के उपायों पर चर्चा की गई।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को
फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top