Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

केरल बजट 2018: किन्नर और किसानों के हित में पेश हुआ केरल का बजट

केरल के वित्त मंत्री थॉमस इसाक आज केरल विधानसभा में बजट पेश किया। केरल बजट पेश करने से पहले उन्होंने कहा कि नोटंबदी ने अर्थव्यस्था पर ओखी तुफान ला दिया है।

केरल बजट 2018: किन्नर और किसानों के हित में पेश हुआ केरल का बजट

केरल के वित्त मंत्री थॉमस इसाक आज केरल विधानसभा में बजट पेश किया। केरल बजट पेश करने से पहले उन्होंने कहा कि नोटंबदी ने अर्थव्यस्था पर ओखी तुफान ला दिया है। कंज्यूमर्स को जीएसटी से कोई फायदा नहीं हुआ है, कोर्पोरेट्स इससे फायदा उठा रहा हैं।

इसे भी पढ़ेंः बजट 2018ः अरुण जेटली ने बढ़ाया 21 प्रतिशत पर्यटन बजट, टूरिस्ट प्लेस का बदलेगा रूप

इसके बाद थामस ने केरल सरकार का पेश कर रहे है। वित्त मंत्री ने तटीय क्षेत्रों के लिए 2,000 करोड़ रुपए का बजट पेश किया है। वित्त मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार एससी/एसटी समुदायों के सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और उन्हें समर्पित कई कार्यक्रमों के लिए 2,859 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया है।

केरल के वित्त मंत्री थॉमस इसाक ने कहा कि अविवाहित मां के लिए 2,000 रुपए महीने मिलेंगे। कौशल विकास कार्यक्रम के लिए 12 करोड़ रूपए आवंटित किए गए हैं। स्कूलों में यूनिफॉर्म वितरण के लिए 150 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। बांस कॉर्पोरेशन के लिए 10 करोड़ रुपए और बांस क्राफ्ट ट्रेनिंग के लिए 5 करोड़ रुपए मिलेंगे।

ट्रांसजेंडर कल्याण योजना

ट्रांसजेंडर कल्याण योजनाओं के लिए 10 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। वित्त मंत्री ने कहा कि राज्य को अभी ट्रांसजेंडर अनुकूल होने के लिए लंबा रास्ता तय करना है। वित्त मंत्री ने 2500 करोड़ रुपये का बजट (लाइफ) आजीविका और आवास परियोजना के लिए आवंटित किया है। इसके तहत 10 लाख रुपए में फ्लैट और 5 लाख रुपए में घर दिया जाएगा।

चिकन फार्मिंग के लिए कुडूम्बश्री योजना

केरल के वित्त मंत्री थॉमस इसाक ने कहा कि एक दिन पुराने चिकन को किसानों को 30-35 रुपये प्रति चिक की कीमत पर दिया जाएगा। कुडूम्बश्री के माध्यम से, सभी पंचायतों के माध्यम से चिकन की फार्मिंग की जाएगी। इसके लिए चिकन स्टॉक को बढ़ाकर 50,000 कर दिया जाएगा।

फूड सेफ्टी के लिए बजट

कुछ राशन की दुकानों को मार्जिन फ्री दुकानों में परिवर्तित किया जाएगा। 31 करोड़ का बजट फूड सेफ्टी के लिए अलॉट किया गया है। यह खासकर राशन की दुकानों को अपग्रेड करने के लिए है।

Next Story
Share it
Top