Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पैलेट गन नहीं मिर्च के गोले इस्तेमाल करेगा सुरक्षा बल

कश्मीर में भेजे जा चुके है 1000 मिर्ची गोले

पैलेट गन नहीं मिर्च के गोले इस्तेमाल करेगा सुरक्षा बल
नई दिल्ली. कश्मीर में पैलेट गन के इस्तेमाल को लेकर उठे विवाद का हल निकल चुका है। बता दें कि भारतीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पैलेट गन की जगह मिर्च के गोले इस्तेमाल करने की मंजूरी दे दी है। गौरतलब है कि रविवार को होने वाली ऑल पार्टी डेलिगेशन की अध्यक्षता करने से पहले सिंह ने पावा शेल (मिर्च गोले) के प्रयोग वाली फाइल पर मुहर लगा दी है।
कश्मीर भेजे जा चुके है मिर्च के गोले
बता दें कि राजनाथ सिंह ने अपने 24-25 अगस्त को कश्मीर दौरे के दौरान ही यह बात साफ कर दी थी कि पैलेट गन की जगह दूसरा विक्लप चुना जाएगा। सूत्रों के मुताबिक कश्मीर में सुऱक्षा बलों के लिेए 1000 मिर्ची के गोले भेजे भी जा चुके है। बता दें कि भीड़ को काबू करने के लिए यह सब इंतजाम किए जा रहे है। पावा का सुझाव टीवीएसएन प्रसाद की अध्यक्षता में बनी सात सदस्यीय समिति ने दिया है। दरअसल, प्रसाद गृहमंत्रालय के संयुक्त सचिव है।
पावा का हो चुका है ट्रायल
इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, बुरहान वानी की मौत को लेकर हो रहे कश्मीर में प्रदर्शन के चलते पैलेट गन से कई जवान अपनी आंखे खो बैठे है जिनमें छोटे-छोटे मासूम बच्चें भी शामिल थे। जानकारी के मुताबिक मिर्ची के गोले प्रदर्शनकारियों को ज्यादा नुकसान नहीं पहुचाएंगे। बता दें कि पावा से लोग स्थिर हो जाते है और कुछ करने की स्थिति में नहीं रह पाते है। गौरतलब है कि लखनऊ के सीएसआइआर में पावा शेल्स का ट्रायल पिछले एक साल से चल रहा था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top