Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्या है ''मरीना बीच'' का राज, क्यों बड़ी हस्तियों दफनाया जाता है यहां- जानें ऐसे ही सवालों के जवाब

करुणानिधि को दफनाने को लेकर विवाद कोर्ट तक पहुंच गया। कोर्ट ने मरीना बीच पर उन्हें दफनाने को लेकर स्वीकृति दे दी है। मद्रास हाईकोर्ट के फैसले के बाद डीएमके के समर्थकों ने राहत की सांस ली है।

क्या है
X

करुणानिधि को दफनाने को लेकर विवाद कोर्ट तक पहुंच गया। तमिलनाडु सरकार को झटका देते हुए मद्रास कोर्ट ने मरीना बीच पर उन्हें दफनाने को लेकर अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है। मद्रास हाईकोर्ट के फैसले के बाद डीएमके के समर्थकों ने राहत की सांस ली है।

कहां है मरीना बीच

तमिलनाडु के शहर चेन्नई का यह एक पर्यटन स्थल है। यह बीच सेन्ट जॉर्ज क़िले से महाबलीपुरम तक फैला हुआ है। मरीना बीच सूर्यास्त के समय बहुत ही खूबसूरत दिखता है। चेन्नई का मरीना बीच विश्व का दूसरा सबसे बड़ा बीच है। चेन्नई आए पर्यटकों को यहां की मनमोहक और लुभावनी शाम आकर्षित करती है।

मरीना बीच पर है इनकी समाधि

चेन्नई के खूबसूरत मशहूर मरीना बीच पर तमि‍लनाडु के तीन पूर्व मुख्‍यमंत्र‍ियों की समाधि है। तमिलनाडु के मरीना बीच पर दफन होने वाले सबसे पहले नेता सीएन अन्नादुरई थे। कान्जीवरम नटराजन अन्नादुराई की मौत 3 फरवरी, 1969 को हुई थी।

अपनी मौत के समय अन्नादुराई तमिलनाडु के सीएम थे। सीएन अन्नादुराई भारत के प्रथम गैर कांग्रेसी मुख्यमंत्री और 'द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम' (डीएमके) पार्टी के संस्थापक थे।

तमिलनाडु के लोकप्रिय नेता के साथ ही वह DMK प्रमुख एम करुणानिधि के राजनीतिक गुरु भी थे। यहां दूसरी समाधि एमजीआर मेमोरियल है। यह तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एमजी रामचंद्रन (एमजीआर) की समाधि है।

एमजीआर राजनीति मे आने से पहले तमिल फिल्मों के लोकप्रिय अभिनेता थे। शुरुआती दौर में कांग्रेस पार्टी में थे लेकिन बाद में उन्होंने सीएन अन्नादुराई की पार्टी डीएमके जॉइन कर ली।

कुछ समय बाद अन्नादुराई की मौत और करुणानिधि से मतभेद के बाद अपनी अलग पार्टी एडीएमके बना ली। इसके बाद वह मुख्यमंत्री भी बने। इनकी भी मौत तमिलनाडु के सीएम पद पर बने रहने के दौरान 24 दिसंबर, 1987 को हो गई थी।

तीसरी समाधि तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री और एआईएडीएमके की पूर्व प्रमुख जे जयललिता की है। जयललिता के राजनीतिक गुरु एआईएडीएमके के संस्थापक के पास ही दफनाया गया है। जयललिता की मौत 5 दिसंबर, 2016 को हुई थी। यह भी मौत के समय तमिलनाडु की मुख्‍यमंत्री थीं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top