Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

करतारपुर कॉरिडोर\ एक क्लिक में देखें कैसा दिखेगा कॉरिडोर

करतारपुर साहिब सिक्खों के प्रथम धर्मगुरू गुरूनानक देव के लिए जाना जाता है। कहा जाता है कि यहीं पर उन्होंने अपना सबसे ज्यादा समय बिताया और अंत में करतारपुर में ही उन्होंने अपनी अंतिम सांसे लीं।

करतारपुर कॉरिडोर\ एक क्लिक में देखें कैसा दिखेगा कॉरिडोर

करतारपुर साहिब सिक्खों के प्रथम धर्मगुरू गुरूनानक देव के लिए जाना जाता है। कहा जाता है कि यहीं पर उन्होंने अपना सबसे ज्यादा समय बिताया और अंत में करतारपुर में ही उन्होंने अपनी अंतिम सांसे लीं। करतारपुर साहिब गुरूद्वारा नरोवाल जिले की शंकरगढ़ तहसील में कोटी पिंड में रावी नदी के करीब स्थित है।

Share it
Top