Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

धर्मगुरु सिद्धेश्वर स्वामी ने पीएम मोदी को लिखा खत, पद्म श्री पुरस्कार लेने से किया इनकार

ज्ञाना योगाश्रम के आध्यात्मिक गुरु सिद्धेश्वर स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने पद्मम श्री पुरस्कार को लेने से इनकार कर दिया है।

धर्मगुरु सिद्धेश्वर स्वामी ने पीएम मोदी को लिखा खत, पद्म श्री पुरस्कार लेने से किया इनकार

छत्तीसगढ़ में विजयपुर के ज्ञाना योगाश्रम के आध्यात्मिक गुरु सिद्धेश्वर स्वामी ने पद्म श्री सम्मान लेने से इनकार कर दिया है। केंद्र सरकार ने पुरस्कारों की लिस्ट में स्वामी जी का नाम शामिल किया था।

आध्यात्मिक गुरु सिद्धेश्वर स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में पद्मश्री पुरस्कार को लेने से इनकार कर दिया है। उन्होंने कहा कि मैंने अपने जीवन में अब तक कोई सम्मान नहीं लिया है। सिद्धेश्वर स्वामी का जन्म कर्नाटक के विजयपुरा जिले के बिज्जारगी में हुआ।

बीते शुक्रवार को संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने कहा कि वह एक साधारण व्यक्ति हैं, जो कि लोगों के बीच अध्यात्म का प्रचार कर रहे हैं और उनका मुख्य उद्देश्य सरल जीवन जीकर सभी क्षेत्रों में खुश रहना है।
उनका कहना था कि “मैंने अपने जीवन में कोई भी सम्मान कभी स्वीकार नहीं किया है। मैंने कुछ साल पहले कर्नाटक विश्वविद्यालय द्वारा मानद डॉक्टरेट दिए जाने की घोषणा पर इनकार कर दिया। मेरे इनकार का राजनीति से कोई लेना देना नहीं है।
अवार्ड नहीं लेने के अपने फैसले का समर्थन करते हुए उनके शिष्यों जंबानगुदार और मल्लिकार्जुन गरुर ने इस पुरस्कार के लिए चयन करने पर केंद्र सरकार का धन्यवाद दिया ।
गणतंत्र दिवस की पूर्व संख्या पर केंद्र सरकार ने देश के प्रतिष्ठित पद्म पुरस्कारों का ऐलान कर दिया था। इस बार सरकार की तरफ से 85 लोगों को पद्म अवॉर्ड दिया गया। इसमें से तीन लोगों को पद्म विभूषण, 9 लोगों को पद्म भूषण और 73 लोगों को पद्मश्री से सम्मानित किया गया।
Next Story
Share it
Top