Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मोबाइल को रेप के लिए जिम्मेदार बताने वाली कर्नाटक सरकार की रिपोर्ट पर हुआ विवाद

बीजेपी के मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि रेप के लिए मोबाइल नहीं गंदी मानसिकता जिम्मेदार है।

मोबाइल को रेप के लिए जिम्मेदार बताने वाली कर्नाटक सरकार की रिपोर्ट पर हुआ विवाद
नई दिल्ली. रेप के लिए मोबाइल को जिम्मेवार बताने वाली और स्कूल-कॉलेजों में मोबाइल पर बैन की सिफारिश करने वाली कर्नाटक विधानसभा के हाउस पैनल की रिपोर्ट पर विवाद खड़ा हो गया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने रिपोर्ट को बेहूदा और मजाकिया बताया है। वहीं, केंद्र सरकार में मंत्री मेनका गांधी से जब इस मसले पर प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा, 'मैं इस घटिया बयान पर कुछ नहीं बोलना चाहती, रेप एक गंभीर मसला है।' लेकिन बीजेपी के ही अनंत कुमार ने इस बात का समर्थन किया है कि कॉलेज में मोबाइल पर प्रतिबंध लगना चाहिए।
कर्नाटक राज्य के महिला और बाल विकास मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को एक रिपोर्ट सदन में पेश गई थी। इसमें कहा गया था, 'ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं जब किसी युवती को मोबाइल के सहारे बहला-फुसलाकर रिमोट एरिया में ले जाया गया और उसका रेप किया गया। मोबाइल फोन स्कूल के माहौल को दूषित कर रहे हैं।'
बीजेपी के मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि रेप के लिए मोबाइल नहीं गंदी मानसिकता जिम्मेदार है। वहीं दिल्ली के प्रतिष्ठित सेंट स्टीफन कॉलेज के प्रिसिंपल अंब्रोस पिंटो ने कहा है कि शैक्षणित संस्थान प्रतिबंध लगाने के लिए नहीं बल्कि सिखाने के लिए होते हैं। गौरतलब है कि कर्नाटक विधानसभा ने शुक्रवार को सदन में एक रिपोर्ट पेश करते हुए सिफारिश की थी कि स्कूल और कॉलेज में छात्रों के मोबाइल ले जाने पर प्रतिबंध लगा देना चाहिए। पैनल ने इस सिफारिश के पीछे वजह बताई कि मोबाइल की वजह से ही रेप और यौन शोषण के मामलों में बढ़ोतरी हुई है।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, कमेटी अध्यक्षा ने किया रिपोर्ट का बचाव-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Top