Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कर्नाटकः डीके शिवकुमार ने बढ़ाई कांग्रेस-जेडीएस की मुश्किलें, बिगाड़ सकते हैं कर्नाटक का गणित, जानें कौन है डीके शिवकुमार

कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कल होने वाले शपथग्रहण समारोह से पहले बयान जारी कर मंत्रीमण्डल में अपने लिए किसी अहम पद मिलने की इच्छा को जाहिर कर दिया है।

कर्नाटकः डीके शिवकुमार ने बढ़ाई कांग्रेस-जेडीएस की मुश्किलें, बिगाड़ सकते हैं कर्नाटक का गणित, जानें कौन है डीके शिवकुमार
X

कर्नाटक में मंत्रीमण्डल के गठन से पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने अपने बयान से कांग्रेस समेत जेडीएस की मुश्किलें बड़ा दी है। कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कल होने वाले शपथग्रहण समारोह से पहले बयान जारी कर मंत्रीमण्डल में अपने लिए किसी अहम पद मिलने की इच्छा को जाहिर कर दिया है।

कांग्रेस नेता शिव कुमार ने कहा कि मुझे अपनी शक्ति दिखानी की कोई आवश्यकता नहीं है। यही नहीं शिवकुमार ने कहा कि कर्नाटक मे सरकार के गठन के लिए जरूरी नंबर को लेकर भी मुझे किसी को कुछ दिखाने की जरूर नहीं है।

शिवकुमार ने कहा कि मुझे राहुल गांधी और सोनिया गांधी पर पूरा भरोसा है। उन्होंने कहा कि हमे पार्टी आलाकमान पर पूरा भरोसा है कब और कैसे किसके लिए क्या फैसला लेना है।

आपको बता दे कि डीके शिवकुमार और गौड़ा परिवार के बीच संबंध अच्छे नहीं है। जानकारों की माने तो डीके शिवकुमार अपने लिए उप-मुख्यमंत्री का पद चाहते है और जिसके लिए वह कांग्रेस आलाकमान पर दबाव भी बना रहे है।

जाने कौन है डी के शिवकुमार

डी के शिवकुमार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता है और कर्नाटक कांग्रेस के बड़े रणनीतिकार है। डीके शिवकुमार कनकपुर विधानसभा सीट से विधायक है। बता दे कि शिवकुमार सिद्धारमैया सरकार में ऊर्जा मंत्री भी रह चुके है।

डी के शिवकुमार वही नेता है जिन्होंने कर्नाटक चुनाव के बाद अपने सभी विधायकों को बीजेपी की सेंधमारी से बचाए रखा और एक भी विधायक को टूटने नहीं दिया। बता दे कि सिद्धारमैया के बाद कर्नाटक कांग्रेस में दूसरा सबसे बड़ा नाम डीके शिवकुमार का है।

इसके साथ ही शिवकुमार कांग्रेस आलाकमान के बेहद करीबी भी माने जाते है। आपको बता दे कि शिवकुमार वोक्कालिगा समुदाय से आते है। जो लिंगायत के बाद कर्नाटक की सियासत में दूसरी किंगमेकर मानी जाती है।

अभी तक कर्नाटक में 6 मुख्यमंत्री वोक्कालिगा समुदाय के बने है। इसके साथ-साथ दक्षिणी कर्नाटक की कई विधानसभा सीट पर उनका काफी गहरा प्रभाव है। कनकपुरा सीट पर लगातार 6 बार जेडीएस के उम्मीदवार की जीत को शिवकुमार ने 2008 में छीन लिया था। इसके बादे से इस सीट पर उनका कब्जा है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top