Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कर्नाटक चुनाव 2018: पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर छोड़े 7 शब्द भेदी बाण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रधानमंत्री बनने संबंधी बयान पर आज निशाना साधते हुए हैरानी जताई कि क्या देश कभी ऐसे अपरिपक्व और नामदार नेता को पीएम पद के लिए स्वीकार करेगा। राहुल गांधी ने सार्वजनिक रूप से प्रधानमंत्री बनने की अपनी आकांक्षा जाहिर की थी।

कर्नाटक चुनाव 2018: पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर छोड़े 7 शब्द भेदी बाण
X

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रधानमंत्री बनने संबंधी बयान पर आज निशाना साधते हुए हैरानी जताई कि क्या देश कभी ऐसे अपरिपक्व और नामदार नेता को पीएम पद के लिए स्वीकार करेगा। राहुल गांधी ने सार्वजनिक रूप से प्रधानमंत्री बनने की अपनी आकांक्षा जाहिर की थी। यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि ऐसा नामदार जो अपने गठबंधन सहयोगियों में विश्वास नहीं करता, जो कांग्रेस के अंदरूनी लोकतंत्र की परवाह नहीं करता, जिसका अहंकार सातवें आसमान पर पहुंच गया है और जो खुद यह घोषणा कर रहा है कि वह 2019 में प्रधानमंत्री बनेगा। क्या देश कभी ऐसे अपरिपक्व ‘नामदार' नेता को स्वीकार कर पायेगा...? जानिए पीएम मोदी के भाषण की 7 बड़ी बातें...

1) राहुल गांधी पर मोदी का यह हमला उनकी प्रधानमंत्री बनने संबंधी टिप्पणी के बाद आया है। एक दिन पहले ही राहुल गांधी ने कहा था कि अगर वर्ष 2019 के लोकसभा चुनावों में उनकी पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरती है तो वह प्रधानमंत्री पद स्वीकार करने के लिए तैयार हैं।

2) मोदी ने कहा कि राहुल का यह बयान इस पद के लिये उनकी जगजाहिर लालसा को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि कल कर्नाटक और भारत की राजनीति में कुछ हुआ। अचानक एक व्यक्ति आया और उसने घोषणा कि उसे दूसरों की परवाह नहीं है जो पहले से ही इस कतार में खड़े हैं। सहयोगियों की भी कोई परवाह नहीं।

3) चुनावी राज्य कर्नाटक में अपने चुनाव प्रचार अभियान के आखिर पड़ाव में मोदी ने कहा कि ऐसे कई नेता हैं जो 40 साल से इंतजार कर रहे हैं, लेकिन वह अचानक आये और अपनी दावेदारी रख दी और कहा मैं ही प्रधानमंत्री बनूंगा।

4) प्रधानमंत्री ने वहां मौजूद जनसमूह से पूछा कि क्या इससे कांग्रेस अध्यक्ष का अहंकार नहीं झलकता। उन्होंने यह भी जानना चाहा कि यह कांग्रेस पार्टी में अंदरूनी लोकतंत्र को दर्शाता है या नहीं। कर्नाटक में 12 मई को मतदान होगा।

5) फर्जीवाड़ा और भाजपा विरोधी मोर्चे गढ़ने के प्रयासों के बारे में बोलते हुए मोदी ने कहा कि बड़ी-बड़ी बैठकें हुई हैं। बड़े - बड़े दिग्गज उन्हें सत्ता से हटाने के लिये बैठकें कर रहे हैं लेकिन उन सबको अंधेरे में रखते हुए राहुल गांधी ने घोषणा कर दी वही प्रधानमंत्री बनेंगे। क्या यह गठबंधन के बीच अविश्वास के स्तर को नहीं दिखाता है।

6) कांग्रेस अपना कटाक्ष जारी रखते हुए उन्होंने पार्टी को एक डील पार्टी करार दिया। मोदी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री रहते हुए मनमोहन सिंह के कार्यकाल में रिमोट कंट्रोल तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के पास होता था , जबकि उनके चार साल के शासन में रिमोट कंट्रोल जनता के हाथ में है।

7) उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस की संस्कृति, सांप्रदायिकता, जातिवाद, अपराध, भ्रष्टाचार और ठेकेदारी ऐसी छह बीमारियां हैं जो कर्नाटक का भविष्य बर्बाद कर रही हैं। मोदी ने वहां मौजूद जनसमूह से कहा कि अब वक्त आ गया है कि कर्नाटक कांग्रेस को अलविदा कहे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top