Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Karnataka Verdict: येदियुरप्पा के लिए इस बार भी बेवफा साबित हुई मुख्यमंत्री की कुर्सी

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कर्नाटक विधानसभा में फ्लोर टेस्ट से पहले एक भावुक भाषण दिया और उसके बाद अचानक उन्होंने इस्तीफा देने का एलान कर दिया।

Karnataka Verdict:  येदियुरप्पा के लिए इस बार भी बेवफा साबित हुई मुख्यमंत्री की कुर्सी
X

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कर्नाटक विधानसभा में फ्लोर टेस्ट से पहले एक भावुक भाषण दिया और उसके बाद अचानक उन्होंने इस्तीफा देने का एलान कर दिया। इसके बाद उन्होंने राजभवन पहुंचकर राज्यपाल वाजुभाई वाला को इस्तीफा सौंप दिया।

बता दें कि बी एस येदियुरप्पा का कर्नाटक में सीएम का कार्यकाल पूरा करने का इस बार भी सपना अधूरा रह गया है। येदियुरप्पा ने आज एक बार फिर सीएम पद से इस्तीफा दिया है। इस बार येदियुरप्पा ढाई दिन में इस्तीफा दिया है।

2007 में बने मुख्यमंत्री येदियुरप्पा

आपको बता दें कि कर्नाटक में येदियुरप्पा 2007 को मुख्यमंत्री बने थे। मुख्यमंत्री बनने के सात दिन बाद ही उन्हें सीएम पद से इस्तीफा देने पड़ा।

जानकारी के लिए बता दें कि साल 2004 के कर्नाटक चुनाव में पहली बार भारतीय जनता पार्टी को राज्य की 224 विधानसभा सीटों में 79 सीटों पर जीत हासिल की थी।

यह भी पढ़ें- कुछ ऐसा रहा कर्नाटक का नाटक, कांग्रेस-जेडीएस की जीत में SC ने निभाई अहम भूमिका, जानिए पूरा घटनाक्रम

इस चुनाव में कांग्रेस 65 और जेडीएस को 58 सीटें मिली थीं। राज्य में कांग्रेस और जेडीएस ने गठबंधन से सरकार बनाई। लेकिन दोनों पार्टियों का गठबंधन ज्यादा नहीं चल पाया।

करीब डेढ़ साल बाद ही गठबंधन सरकार गिर गई और जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी बीजेपी के समर्थन से सीएम बने। येदियुरप्पा डिप्टी सीएम और वित्त मंत्री बने। जेडीएस और भाजपा में 20-20 महीने तक सीएम पद रखने का समझौता हुआ था।

कुमारस्वामी ने अपना कार्यकाल पूरा होते ही समझौते से मुकर गए। येदियुरप्पा के दल ने समर्थन वापस ले लिया, और राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top