Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आज भी निकाले गए 96 कैलाश मानसरोवर के तीर्थयात्री, अब तक 346 लोगों को बचाया, अब भी फंसे हैं 1229 श्रद्धालु

नेपाल कई क्षेत्रों में फंसे कैलाश मानसरोवर यात्रा के 96 तीर्थयात्रियों को सुरखेत से निकाला गया है। अबतक 1575 तीर्थयात्रियों में से 346 लोगों को बचाया लिया है। इसके अलावा दो लोगों की मौत हो गई।

आज भी निकाले गए 96 कैलाश मानसरोवर के तीर्थयात्री, अब तक 346 लोगों को बचाया, अब भी फंसे हैं 1229 श्रद्धालु

नेपाल कई क्षेत्रों में फंसे कैलाश मानसरोवर यात्रा के 96 तीर्थयात्रियों को सुरखेत से निकाला गया है। अबतक 1575 तीर्थयात्रियों में से 346 लोगों को बचाया लिया है। इसके अलावा दो लोगों की मौत हो गई।

भारतीय दूतावास ने बताया कि केरल के 56 वर्षीय नारायणम लीला की मृत्यु सिमिकोट में ऊंचाई से जुड़ी बिमारी और आंध्र प्रदेश की सत्या लक्ष्मी की मौत तिब्बत में दिल का दौरा पड़ने से हुई।
वहीं अन्य तीर्थयात्रियों को निकालने के प्रयास तेज कर दिए गए हैं। खराब मौसम और भारी बारिश के चलते नेपाल के पर्वतीय क्षेत्र में फंस गए हैं। तीर्थयात्रियों को निकालने के लिए 11 विमान लगे हुए हैं। जिनमें दो कमर्शियल विमान भी शामिल है।
नेपालगंज से सिमीकोट के बीच 7 विमान राहत एवं बचाव कार्य में जुट हुए हैं। इस दौरान सोमवार शाम तक 104 कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया गया।
वहीं, अधिकारी ने बताया कि 158 लोगों को सिमिकोट से नेपालगंज ले जाया गया है। नेपालगंज एक बड़ा शहर है और इसमें सभी आधुनिक सुविधाएं हैं। सड़क मार्ग के जरिए तीन घंटे में यहां से लखनऊ पहुंचा जा सकता है।
आपको बता दें कि नेपाल में भारतीय दूतावास ने बताया है कि 525 तीर्थयात्री सिमीकोट, 550 हिल्सा और अन्य 500 तीर्थ यात्री तिब्बती क्षेत्र में फंसे हुए हैं। मिशन ने सभी टूर ऑपरेटर से तिब्बती क्षेत्र में फंसे तीर्थयात्रियों को वापस लाने के लिए कहा है।

ये है हॉट लाइन नंबर

नेपाल में भारतीय दूतावास ने तीर्थयात्रियों और उनके परिवार के लिए हॉट लाइन नंबर जारी किए है। ये नंबर हैः 977-9851107006,+977-9851155007,+977-9851107021, +977-9818832398।
इसके अलावा दूतावास ने अन्य भाषाओं में भी जानकारी के लिए नंबर जारी किए हैं जोकि इस प्रकार हैः- कन्नड़- +977-9823672371, तेलुगु- +977-9808082292, तमिल- +977-9808500642, मलयालम- +977-9808500644
Next Story
Top