Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया से मिलने पहुंचे PM के प्रमुख सचिव, नहींं दिया मिलने का टाइम

वहीं प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव नृपेंद्र मिश्रा चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के आवास के बाहर गाड़ी में दिखाई दी है।

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया से मिलने पहुंचे PM के प्रमुख सचिव, नहींं दिया मिलने का टाइम

सुप्रीम कोर्ट के चार जजों की ओर से की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद ये मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन ने इस संदर्भ में बैठक बुलाई है और बताया जा रहा है कि एसोसिएशन की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की जा सकती है।

वहीं प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव नृपेंद्र मिश्रा चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के आवास के बाहर गाड़ी में दिखाई दी है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पीएम के प्रिंसिपल सेक्रेट्ररी नृपेंद्र मिश्रा चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा से मिलने गए थे, लेकिन मीटिंग नहीं हो सकी।

इसे भी पढ़ेंः अरब सागर में मिला ONGC के हेलिकॉप्टर का मलबा, DGM सहित 4 लोगों की मौत, 3 अब भी लापता

बता दें कि न्यायपालिका में चल रही गड़बड़ियों को लेकर सुप्रीम कोर्ट के सीनियर जज नाराज चल रहे हैं। जजों ने इससे पहले चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) से इस बारे में कई बार बातचीत भी की, लेकिन कोई हल नहीं निकलने के बाद उन्होंने मीडिया के सामने आने का फैसला लिया।

बार एसोसिएशन के प्रेसिडेंट ने कहा

बार एसोसिएशन के प्रेसिडेंट विकास सिंह ने कहा कि अगर वे (जज) मीडिया के सामने आए भी थे तो उन्हें कुछ महत्वपूर्ण कहना चाहिए था। सिर्फ लोगों के दिमाग में न्यायपालिका के खिलाफ गलतफहमी पैदा करना ठीक नहीं है। साथ ही ये भी तय नहीं था कि वे जस्टिस लोया के केस पर कुछ बयान देंगे।

जजों ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

शुक्रवार को 4 जज प्रेस कॉन्फ्रेंस में जस्टिस रंजन गोगई जस्टिस कुरियन जोसेफ, जस्टिस चेलामेश्वर और जस्टिस मदन भीमराव मौजूद रहे। जजों ने कहा कि न्यायपालिका में कुछ महीनों से सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है और ऐसा रहा तो लोकतंत्र नहीं चल सकेगा।

Share it
Top