Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पत्रकार हत्याकांड: जानें कौन थे जर्नलिस्ट जे डे, कैसे हुआ हत्या का खुलासा

मुंबई के पोवई में 56 साल के पत्रकार ज्योतिर्मय डे की 11 जून, 2011 को दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई। जिस मामले में कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है।

पत्रकार हत्याकांड: जानें कौन थे जर्नलिस्ट जे डे, कैसे हुआ हत्या का खुलासा
X

मुंबई के पोवई में 56 साल के पत्रकार ज्योतिर्मय डे की 11 जून, 2011 को दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई। जिस मामले में कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है।

पत्रकार ज्योतिर्मय डे यानी जे डे मर्डर केस में मुंबई की विशेष मकोका कोर्ट अपना फैसला सुना दिया है। इस हत्याकांड में छोटा राजन को दोषी करार दिया है। जबकि पत्रकार जिगना वोरा और जोसफ पाल्सन को रिहा कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें- दिल्ली एक बार फिर हुई शर्मसार, 7 साल की मासूम को नाबालिग ने बनाया हवस का शिकार

जानें कैसे हुई हत्या

मुंबई के पोवई में 56 साल के पत्रकार ज्योतिर्मय डे की 11 जून, 2011 को दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई। जिसके बाद कई लोगों को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा दो पत्रकार जिगना वोरा और जोसफ पाल्सन को भी हत्या के शक में गिरफ्तार किया गया।

लेकिन उनकी मौत की जांच चलती रही और इस केस को पूरा करने में कोर्ट को 7 साल हो गए हैं। जिसके बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है। डे मुंबई में एक अंग्रेजी अखबार के लिए इंवेस्टिगेटिव और क्राइम रिपोर्टिंग करते थे।

ऐसे दिया घटना को अंजाम

कहते हैं कि जे डे की मां का घर घाटकोपर में था और वो अपने घर पवई में था। हर दिन वो मां से मिलने आया करता था। लेकिन 11 जून 2011 को मां से मिलकर घर लौटते समय दिनदहाड़े गोली मार कर हत्या कर दी गई। मीडिया रिपोर्ट के मुातबिक, उस दिन भी वह अपनी मां के घर से पवई में अपने घर बाइक से लौट रहे था।

ऐसे हुआ हत्या का खुलासा

पत्रकार ज्योतिर्मय डे की हत्या की गुत्थी सुलझाने में जुटी क्राइम ब्रांच अपनी जांच कर रही थी। जांच के दौरान क्राइम ब्रांच ने सबसे पहले जेडे की फोन डिटेल्स निकली।

एक जर्नलिस्ट दोस्त की मदद के आधार पर घाटकोपर से पवई के बीच करीब दो दर्जन पीसीओ नंबरों की डिटेल निकाली गईं। फोन डिटेल में क्राइम ब्रांच ने उसकी मां के घर के पास एक पीसीओ के सीडीआर में एक नंबर पर शक हुआ और फिर उसके बाद एक एक कर हत्या की पूरी कड़ी खुली चली गई। उस पीसीओ से जेडे को फोन करके पूछा गया कि तुम कहां हो।

इसे भी पढ़ें- उमा भारती भी चलीं पार्टी की राह, बोलीं- दलितों को घर पर खिलाना चाहती हूं भोजन

जेडे की हत्या के आरोप में अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन मुख्य आरोपी है और जिग्ना वोरा महिला पत्रकार समेत 10 अन्य लोगों भी इस केस में आरोपी बनाया गया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story