Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जोधपुर कोर्ट ने ट्विटर के CEO जैक डोरसे के खिलाफ दिया FIR दर्ज करने का आदेश

शनिवार को जोधपुर कोर्ट ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर के सीईओ जैक डोरसे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। धार्मिक भावनाओं और ब्राह्मण समुदाय की मानहानि को नुकसान पहुंचाने के लिए कोर्ट में एक शिकायत दर्ज कराई गई थी। आज कोर्ट ने पुलिस को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है।

जोधपुर कोर्ट ने ट्विटर के CEO जैक डोरसे के खिलाफ दिया FIR दर्ज करने का आदेश
शनिवार को जोधपुर कोर्ट ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर के सीईओ जैक डोरसे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। धार्मिक भावनाओं और ब्राह्मण समुदाय की मानहानि को नुकसान पहुंचाने के लिए कोर्ट में एक शिकायत दर्ज कराई गई थी। आज कोर्ट ने पुलिस को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है।
बता दें कि पिछले महीने भारत दौरे पर आए डोरसे ने कुछ महिला कार्यकर्ताओं और पत्रकारों के साथ एक पोस्टर हाथ में लेकर तस्वीर खिंचवाई थी, जिस पर 'ब्राह्मणवादी पितृसत्ता को तोड़ो' नारा लिखा था। यह तस्वीर बाद में सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई।
पोस्टर के वायरल होने के बाद कुछ यूजर्स ने डोरसे पर 'कट्टरता' और 'नस्लवादी' के आरोप लगाए थे।
पिछले महीने अखिल भारतीय ब्राह्मण संस्था, विपरा फाउंडेशन द्वारा ट्विटर सीईओ और अन्य के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज किया गया था।
विपरा ने आरोप लगाया है कि पोस्टर के साथ डोरसे की तस्वीर ने उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई और 'सांप्रदायिक संघर्ष' का कारण बना दिया।
विपरा फाउंडेशन के सदस्य राजकुमार शर्मा की तरफ से वकील हस्तिमल सारस्वत ने भारतीय दंड संहिता के 295A 500, 501, 504, 505 और 120B के तहत डोरसे के खिलाफ मुकदमा दायर किया था।
Share it
Top