Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जदयू नेता ने अंबेडकर के नाम में बदलाव पर आपत्ति जतायी

जदयू के वरिष्ठ नेता श्याम रजक ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा सरकारी रिकार्ड और दस्तावेजों में डॉ. अम्बेडकर का नाम बदलकर ‘डॉ भीमराव रामजी आम्बेडकर'' किए जाने पर आपत्ति जतायी है।

जदयू नेता ने अंबेडकर के नाम में बदलाव पर आपत्ति जतायी
X

जदयू के वरिष्ठ नेता श्याम रजक ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा सरकारी रिकार्ड और दस्तावेजों में डॉ. अम्बेडकर का नाम बदलकर ‘डॉ भीमराव रामजी आम्बेडकर' किए जाने पर आपत्ति जतायी है।

विधानसभा में जदयू के उपनेता रजक ने आज आरोप लगाया कि उत्तरप्रदेश की सरकार द्वारा उक्त संबंध में अधिसूचना जारी किये जाने की चर्चा मनुवाद के एजेंडे को थोपना और दलितों के अधिकार से लोगों का ध्यान हटाने की एक कोशिश है।
उन्होंने कहा कि यह सच है कि बाबासाहेब के पिता का नाम रामजी था। उन्होंने हस्ताक्षर करने के समय इसे शामिल किया पर यह भी एक तथ्य है कि अम्बेडकर उनके परिवार का नाम नहीं था, लेकिन उन्हें उनके शिक्षक द्वारा यह नाम दिया गया था। उनके परिवार का नाम सक्पाल था। इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा की गयी इस कोशिश से शरारत की ‘बू' आती है।
रजक ने कहा कि ऐसा लगता है कि मनुवाद के एजेंडा को लागू करने की यह एक और कोशिश है। ऊंची जाति के आधिपत्य को बनाए रखने में रुचि रखने और धर्मार्थ होने का दावा करने वाले शुद्धिकरण चाहते हैं, पर वे ऐसा करके वास्तव में वे दलितों को अपमानित करते हैं।
उन्होंने कहा कि अम्बेडकर के नाम में बदलाव ऐसे समय में किया गया है जब संविधान द्वारा दिए गए अपने अधिकार की मांग करने दलितों पर हर तरफ से प्रहार हो रहा है।
रजक ने कहा कि उत्तर प्रदेश सहित अन्य सरकारें अपने ऐसे इरादों से बाज आए, क्योंकि दलित बहुत ही ​आक्रोशित हैं और इसका उन्हें गंभीर राजनीतिक परिणाम न भुगतना पडे़।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story