Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अम्मा के पास थीं 10 हजार साड़ियां, 750 चप्‍पलें, 28 KG सोना और..

आय से अधिक संपत्ति के मामले में वह जेल भी गई थीं।

अम्मा के पास थीं 10 हजार साड़ियां, 750 चप्‍पलें, 28 KG सोना और..
X
तमिलनाडु. तमिलनाडु की 'अम्‍मा', मास लीडर और मुख्‍यमंत्री जयललिता का 5 दिसंबर की रात निधन हो गया। जयललिता ने 11 बजकर 30 मिनट पर अंतिम सांस ली। उन्‍हें कॉर्डिएक अटैक हुआ था। जयललिता हमेशा से अलग व्‍यक्तित्‍व वाली नेता रहीं है, उनके जीने का अंदाज एकदम शाही और जुदा था। जी हां जयललिता बिना किसी की परवाह किए अपने तरीके से अपनी जिंदगी जीती रही थीं। उनकी शानो-शौकत देखकर लोग दंग रह जाते हैं-
साड़ियों का था शौक-
कहा तो यहां तक जाता है कि जयललिता के पास 10 हजार से ज्‍यादा साडि़यां और करीब 750 जोड़ी चप्‍पलें थीं। अम्‍मा को जानने वाले बताते हैं कि उनका अंदाज हमेशा से रॉयल रहा। जब वो फिल्‍मों में थीं तब भी उनके लिए खाना घर से आता था। वह अपने समय में सुपर-स्टार थी। राजनीति में आने के बाद भी उनके रॉयल अंदाज में कोई चेंज नहीं आया। आम लोग ही नहीं, बड़े-बड़े उनके पैर छूते रहे। उनका जीने का अंदाज अलग था।
साथ रखती थी खास कुर्सी-
जयललिता की खास कुर्सी जयललिता को गठिया की समस्‍या थी, इसलिए उनके लिए सागौन की लकड़ी की बनी खास कुर्सी डिजाइन की गई थी। यह कुर्सी दिल्‍ली स्थित तमिलनाडु भवन में रखी है। दिल्‍ली दौरे के दौरान जयललिता जहां-जहां जाती थी, कुर्सी भी वहां-वहां ले जाई जाती थी। फिर चाहे यह विज्ञान भवन में होने वाली मीटिंग हो, संसद की लाइब्रेरी या फिर राष्‍ट्रपति भवन। दिल्‍ली में उनकी मुलाकात के कार्यक्रमों के बाद यह कुर्सी वापस तमिलनाडु भवन भेज दी जाती थी।
कई भाषाओं का था ज्ञान-
5 भाषाओं का ज्ञान जयललिता को 5 भाषाएं आती थीं। वह अंग्रेजी, तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और हिंदी में एक्सपर्ट थीं। इसी के साथ वे क्लासिकल डांस में भी एक्सपर्ट थीं। उन्होंने भारत में कई जगह क्लासिकल डांस की परफॉर्मेंस भी दी थी। उन्होंने 4 साल की उम्र से कर्नाटक संगीत भी सीखा था। उन्होंने अपनी कई फिल्मों में गाना भी गाया था।
छापेमारी में मिलें बेहिसाब चप्पलें और साड़ियां-
जब जयललिता की कोठी पर छापा पड़ा था तो दस हजार साड़ियां और 750 जोड़ी जूते अलमारियों में रखे मिले थे। कहा तो यह भी जाता है कि सभी जूते और चप्‍पले साडि़यों के मैच के थे। उनके पास बेहिसाब साडि़यां और चप्‍पलें थी। हालांकि इस मामले ने राजनीति में भूचाल जरूर ला दिया था। आय से अधिक संपत्ति के मामले में वह जेल भी गई थीं।
गोद लिए बेटे की शादी में किए करोड़ो खर्च-
सितंबर, 1995 में जयललिता ने अपने गोद लिए हुए बेटे सुधाकरन की शादी की थी। उस समय इस शादी का खर्च 75 करोड़ रुपए आया था। इस शादी के लिए चेन्नई में 20 हेक्टेयर (50 एकड़) जगह का इस्तेमाल किया गया था। 1,50,000 लोग इस शादी में शामिल हुए थे। शादी के मंदिर से 5 किलोमीटर की दूरी तक सड़क पर गुलाब के फूल बिछाए गए थे। इतना ही नहीं, इस शादी में खाने-पीने के इंतजाम पर ही 2 करोड़ रुपए का खर्चा आया था। इस वजह से ये शादी गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story