Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शशिकला: जयललिता के साथ साए की तरह रहने वाली एक दोस्‍त

एक फैन से दोस्‍त बनने तक का सफर

शशिकला: जयललिता के साथ साए की तरह रहने वाली एक दोस्‍त
X
नई दिल्ली. तमिलनाडु की पूर्व मुख्‍यमंत्री जयललिता का चेन्‍नई में अंतिम संस्‍कार कर दिया गया। उनकी करीबी दोस्‍त शशिकला नटराजन ने इस जिम्‍मे को संभाला और सभी रीति-रिवाजों के साथ जयललिता का अंतिम संस्‍कार किया गया।
अम्‍मा के लिए काफी अहम थीं शशिकला जब से जयललिता अस्‍पताल में थीं शशिकला उनके साए की तरह साथ थीं। माना जा रहा है कि अब जयललिता के निधन के बाद शशिकला पर बड़ी जिम्‍मेदारी आ सकती है। अंतिम संस्‍कार परिवार का कोई व्‍यक्ति ही करता है और अब आप अंदाजा लगा सकते हैं कि शशिकला का जयललिता की जिंदगी में कितना बड़ा रोल था।
वनइंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, शशिकला को पार्टी में कौन सा रोल दिया जाएगा यह अभी तय नहीं है। अम्‍मा शशिकला को अपनी दोस्‍त ही नहीं अपनी गाइड भी मानती थीं। यह बात भी गौर करने वाली है कि जहां जया ब्राह्मण थीं तो शशिकला और मुख्‍यमंत्री पन्‍नीरसेल्‍वम ओबीसी वर्ग के हैं।
एक फैन से दोस्‍त बनने तक का सफर
-शशिकला नटराजन का जन्‍म तंजौर जिले के मनारगुड़ी में हुआ था।
-शशिकला एक स्‍कूल ड्रॉप आउट हैं और उन्‍होंने पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी।
-शशिकला को फिल्‍मों का भी काफी शौक था और यह एक वजह थी जो उन्‍हें अम्‍मा के करीब लाई।
-पैसे कमाने के लिए शशिकला एक वीडियो शॉप चलाती थीं और आसपास के इलाकों में होने वाली शादियों की रिकॉर्डिंग करती थीं।
-एक वीडियो शॉप चलाने वाली शशिकला की शादी तमिलनाडु की सरकार में पब्लिक रिलेशंस ऑफिसर नटराजन से हुई थी।
-पति नटराजन कडलोर जिले के डीएम वीएस चंद्रलेखा के साथ थे।
-चंद्रलेखा तमिलनाडु के उस समय के सीएम एमजीआर या एमजी रामचंद्रन के करीब थीं।
-एमजीआर अपनी को-स्टार जयललिता के भी काफी करीबी थे।
-चंद्रलेखा ने एमजीआर से अनुरोध किया कि एक बार शशिकला को जयललिता से मिलवा दिया जाए।
-शशिकला के पति ने चंद्रलेखा से यह रिक्‍वेस्‍ट की थी और यहां से एक नया सिलसिला शुरू हुआ।
-वर्ष 1988 में शशिकला जयललिता की इतनी अच्‍छी दोस्‍त बन गईं कि उनके घर पर ही रहने लगीं।
-बाद में शशिकला का पूरा परिवार भी अम्‍मा के घर पर शिफ्ट हो गया। धीरे-धीरे शशिकला का कद बढ़ता गया और वह तय करतीं कि अम्‍मा से कौन मिलेगा और कौन नहीं।
-पार्टी के हर बड़े फैसले में शशिकला की भूमिका होती थी और पार्टी से किसे निकाला जाए यह भी वही तय करती थीं।
-वर्ष 1996 में जब जयललिता को विधानसभा चुनावों में हार का सामना करना पड़ा तो दोस्‍ती में दरार आई।
-दोनों को सात दिसंबर 1996 को कलर टीवी स्‍कैम में गिरफ्तार किया गया। दोनों को 30 दिनों की हिरासत में भेजा गया।
-वर्ष 2012 में अम्‍मा ने शशिकला को पार्टी से बाहर कर दिया था लेकिन शशिकला के माफी मांगने पर उन्‍हें दोबारा जगह मिली।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें
ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story