Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

खुला राज: ऐसे कश्मीर में आतंकवाद को फैला रहा पाकिस्तान

जम्मू कश्मीर के पुलवामा इलाके में हुई मुठभेड़ में सरगना मसूद अजहर के रिस्तेदार की मौत हो गई है।

खुला राज: ऐसे कश्मीर में आतंकवाद को फैला रहा पाकिस्तान

जम्मू कश्मीर के पुलवामा इलाके में हुई मुठभेड़ में सरगना मसूद अजहर के रिस्तेदार की मौत हो गई है। मुठभेड़ स्थल से मिले हथियारों से पुष्टि हो गई है कि कश्मीर में हो रहें आतंकी हमलों में पाकिस्तान का हाथ है।

अमेरिका निर्मित कोई हथियार आतंकियों से बरामद होने का यह पहला मामला है इस एम4 कार्बाइन का इस्तेमाल पाकिस्तान की सेना करती है। राज्य प्रशासन ने मसूद अजहर के रिस्तेदार के शव को उनके घर पहुँचाने का फैसला लिया है।
आईजीपी कश्मीर मुनीर अहमद खान और सेना की विक्टर फोर्स के जीओसी मेजर जनरल बीएस राजू ने बताया है कि अगलर का अभियान बहुत महत्वपूर्ण है। इसमें जैश के डीविजन कमांडर महमूद भाई और अजहर मसूद का रिस्तेदार मारा गया है जिससे कश्मीर में आतंकवाद को जिंदा रखने व जैश को गहरा धक्का लगा है।
6 नवंबर को हुई मुठभेड़ में वसीम अहमद,पाकिस्तानी मूल के महमूद भाई और मसूद अजहर का रिस्तेदार रशीद तल्हा नाम के तीन आतंकी मारे गए है। तल्हा और महमूद दोनों आतंकियों पर सरकार ने 10-10 लाख रुपए का इनाम रख रखा था और वसीम पर तीन लाख का ईनाम था।
जर जनरल बीएस राजू ने कहा कि एम4 जैसे हथियारों की आतंकियों के पास होने से उनकी क्षमता बढ़ने वाली नहीं है। क्योंकि ऐसे हथियारों को चलाने की ट्रेनिंग, रख-रखाव और इनमें इस्तेमाल होने वाले कारतूस एसाल्ट राइफलों से पूरी तरह अलग हैं।
यह एसाल्ट राइफल से लंबी होती है, इसे ले जाना, छिपाना और चलाना भी आसान नहीं है। यह एसाल्ट राइफल की तरह ज्यादा दूर तक मारने वाली और सुविधाजनक नहीं है।
Share it
Top