Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पुरी में 34 साल बाद आज खुलेगा बारहवीं सदी के इस प्रसिद्ध मंदिर का खजाना, ये है वजह

पिछली बार इसका निरीक्षण 1984 में किया गया था तब इसके सात कक्षों में से केवल तीन कक्ष खोले गए थे। निरीक्षण टीम में पुरी के राजा गजपति महाराज दिव्यसिंह देव या उनके प्रतिनिधि तथा पत्तजोशी महापात्र भी शामिल होंगे।

पुरी में 34 साल बाद आज खुलेगा बारहवीं सदी के इस प्रसिद्ध मंदिर का खजाना, ये है वजह
X

बारहवीं सदी के जगन्नाथ मंदिर का कोषागार 34 साल के अंतराल के बाद आज निरीक्षण के लिए खोला जाएगा। श्रीजगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजेटीए) के मुख्य प्रशासक पीके जेना ने कल संवाददाताओं को बताया कि 10 सदस्यीय एक समिति चार अप्रैल को रत्न भंडार (कोषागार) के तल, छत और दीवार की भौतिक स्थिति का निरीक्षण करेगी।

जेना ने बताया कि टीम में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के दो विशेषज्ञ भी शामिल हैं। टीम केवल ढांचागत स्थिरता और सुरक्षा के बारे में जानने के लिए रत्न भंडार का निरीक्षण करेगी। उन्होंने कहा कि किसी को भी रत्न भंडार में रखे आभूषणों को छूने की अनुमति नहीं दी जाएगी। रत्न भंडार में देवों के कीमती आभूषण रखे हैं।

इसे भी पढ़ें- कर्नाटक विधानसभा चुनाव: धनबल के इस्तेमाल को रोकने के लिए आईटी डिपार्टमेंट ने उठाए सख्त कदम

पिछली बार इसका निरीक्षण 1984 में किया गया था तब इसके सात कक्षों में से केवल तीन कक्ष खोले गए थे। इससे पहले यह 1978, 1926 और 1905 में खोला गया था। निरीक्षण टीम में पुरी के राजा गजपति महाराज दिव्यसिंह देव या उनके प्रतिनिधि तथा पत्तजोशी महापात्र भी शामिल होंगे।

मंदिर के अधिकारियों को कोषागार की चाबी उसी दिन पुरी स्थित सरकारी कोषागार से मिलेगी। श्री जगन्नाथ मंदिर पुरी में स्थित है और हिन्दुओं के चार धामों में से एक है। तीन अन्य धाम बद्रीनाथ, द्वारका और रामेश्वरम है।

मंदिर में नहीं होगा कोई श्रद्धालु

जेना ने कहा कि रत्न भंडार को दोपहर बाद खोलने के प्रबंध किए जा रहे हैं और निरीक्षण के दौरान मंदिर परिसर में कोई श्रद्धालु नहीं होगा। उन्होंने कहा कि टीम के सभी सदस्यों को कोषागार में प्रवेश से पहले त्रिस्तरीय जांच से गुजरना होगा। पुलिस के अधिकारी टीम के सदस्यों की तलाशी लेंगे जिससे कि वे कोई धातु या इलेक्ट्रानिक उपकरण न ले जा सकें।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story