Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ'' के पोस्टर पर जेहादी महिला का फोटो, महबूबा सरकार शर्मसार

अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी पाकिस्तान समर्थक 'दुख्तरान ए मिल्लत' संगठन की प्रमुख है।

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के पोस्टर पर जेहादी महिला का फोटो, महबूबा सरकार शर्मसार
X
कश्मीर में 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान के पोस्टर में महिला आतंकी आसिया अंद्राबी की फोटो छपने से बवाल मच गया है। इस मामले को तूल पकड़ते देख डीसी अनंतनाग ने दोषी अधिकारी को सस्पेंड कर दिया है।
हैरानी की बात यह है कि अंद्राबी पाक स्पॉन्सर 'दुख्तरान ए मिल्लत' संगठन की प्रमुख है। अंद्राबी की फोटो पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, गायिका लता मंगेशकर, टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, मदर टेरेसा और पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी के साथ छापी गई है।
यह भी पढ़ें: राहुल गांधी ने इस तरह लेडिस टॉयलेट में घुसकर अपना ही मजाक उड़वाया
दरअसल, जम्मू-कश्मीर सरकार के लिए यह शर्मनाक हालात उस समय पैदा हुए जब जेल में बंद जेहादी नेता आसिया अंद्राबी की तस्वीर सीएम महबूबा मुफ्ती और दूसरी हस्तियों के साथ पोस्टर में छाप दी गई।
हैरानी की बात यह है कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के इस पोस्टर का मकसद अपनी लाइफ में उपलब्धियां हासिल करने वाली देश की महिलाओं को रोल मॉडल में जनता के समक्ष पेश करना है।
सरकार को उस समय शर्मिंदगी उठानी पड़ी जब प्रदेश के पर्यटन विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में इन पोस्टरों को लगाया गया। अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी फोटो देखकर हर कोई हैरान रह गया। फौरन इन पोस्टरों को हटाया गया।
इसके बाद इस मामले में जांच के आदेश दिए गए। मामले ने तूल पकड़ा तो डीसी अनंतनाग ने एक अधिकारी को सस्पेंड भी कर दिया। बता दें कि अंद्राबी अलगाववादी गतिविधियों की वजह से इस वक्त जेल में बंद है। उसके खिलाफ देशद्रोह समेत कई मामले दर्ज हैं।
'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सबसे खास है। ऐसे में यह बड़ी चूक मानी जा रही है। सवाल उठ रहा है कि आखिर अलगाववादी नेता का फोटो किस तरह छाप गया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story