Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कठुआ रेप मामले में जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी के दोनो मंत्रियों का इस्तीफा किया स्वीकार

कठुआ रेप मामले में जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी के दो मंत्री चंद्र प्रकाश गंगा और लाल सिंह ने पार्टी के कहने पर अपना इस्तीफा जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को भेजा था, जिसे मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया है।

कठुआ रेप मामले में जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी के दोनो मंत्रियों का इस्तीफा किया स्वीकार
X
कठुआ रेप मामले में जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी के दोनो मंत्रियों का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। बता दें कि कठुआ रेप मामलें में आरोपी के समर्थन में रैली का आयोजन करने और विवादस्पद बयानबाजी करने पर बीजेपी के दो मंत्री चंद्र प्रकाश गंगा और लाल सिंह ने पार्टी के दबाव के बाद अपना इस्तीफा जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को भेजा था, जिसे मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया है।
आपको बता दें कि बीजेपी नेता चंद्र प्रकाश गंगा ने इम मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी पर विवादित बयान देते हुए गिरफ्तारी को जंगल राज का नाम दिया था। वहीं दूसरी तरफ लाल सिंह ने कहा कि इस एक लड़की की मौत पर इतना हल्लाबोल क्यों है ऐसी कई लड़कियां यहां मर चुकी हैं।
आपको बता दें कि पहले शुक्रवार को इस्तीफा देने के बाद लाल सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि वे माइग्रेशन की वजह से पैदा हुए तनाव को कम करने के लिए कठुआ गए थे। लाल सिंह ने कहा था कि हमने प्रथर्शनकारियों से बात की।
आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शनिवार को कठुआ रेप मामले में आरोपी चार पुलिसवलों को पहले ही बरखास्त कर चुकी हैं। सीएम महबूबा ने इस मामले में कड़ी कार्रवाई करते हुए एक पुलिस सब-इंस्पेक्टर,एक हेड कॅान्सटेबल, और दो एसपीओ को बर्खास्त किया था।
बता दें कि सीएम महबूबा मुफ्ती पहले ही मुख्य न्यायधीश से भी इस मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट शुरु करने का अनुरोध कर चुकी हैं। बता दें कि यह जम्मू कश्मीर का पहला फास्ट ट्रैक कोर्ट होगा। जिसके अन्तर्गत कठुआ मामले कि सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में 90 दिन में अपना ट्रायल पूरा करेगी।

क्या है पूरा मामला?

जम्मू के कठुआ जिले के रहने वाली खानाबदोश बकारवाल मुस्लिम समाज की एक आठ वर्षीय बच्ची 10 जनवरी को अपने घर के पास से लापता हो गई थी। और आठवें दिन उस बच्ची की लाश पास के ही जंगल में पाई गई थी।
पुलिस जांच में पाया गया कि आरोपियों ने बच्ची को अगवा कर एक सुनसान जगह पर रखा हुआ था। जहां वही उस आठ साल की बच्ची के साथ लगातार सात दिनों तक बारी-बारी से रेप करते रहे। इस मामलें में क्राइम ब्रांच ने अब तक दस से ज्यादा लोगों कि गिरफ्तार कर लिया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story