Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'सुकमा के शहीदों का बदला खून से चाहिए'

जवान ने कहा कि हमें ट्विटर, फेसबुक या व्हाट्सऐप पर लोगों की सहानुभूति नहीं चाहिए।

सुकमा के शहीदों का बदला खून से चाहिए
X

छत्तीसगढ़ के सुकमा में जवानो पर हुए हमले के बाद कई लोग अलग-अलग तरह से प्रतिक्रिया दे रहे है। इस मामले में ताजा प्रतिक्रिया एक इंडो तिब्बत बॉर्डर पुलिस (आईटीबीपी) के जवान की आई है।

आईटीबीपी जवान ने एक विडियो बनाकर अपना आक्रोश प्रकट किया है। जवान के इस वायरल विडियो में आईटीबीपी के इंस्पेक्टर प्रमोद तिवारी ने रोते हुए कहा कि अब बहुत हो गया। हमें एक करोड़ का मुआवजा नहीं, जवानों के खून का बदला खून से चाहिए।
अपने वायरल विडियो में प्रमोद ने एंटी नक्सल ऑपरेशन में लगे सभी जवानों और अफसरों को संबोधित किया है। प्रमोद ने आगे कहा कि जिन लोगो की खुशी के लिए हम लोग कई दिनों तक जंगलों में रहते है। जिस मां-बाप और बच्चों की खुशी के लिए हम काम करते हैं, उन्हीं से कई दिन तक बात नहीं हो पाती है।
देश में उग्र रूप धारण कर चुकी नक्सलवादियों की समस्या पर प्रमोद ने कहा कि ये लड़ाई कोई सरकार, समाज या संविधान की नहीं हैं। अगर इनकी होती, तो अब तक खत्म हो चुकी होती।
प्रमोद ने कहा कि हमें ट्विटर, फेसबुक या वाट्सऐप पर लोगो की प्रतिक्रिया और सिम्पैथी नहीं चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया हैं कि लोग पैसे दे कर सेलेब्रिटी बन जाते है। लकिन जवानो के परिजनों से मिलने कोई नहीं आता है।
आपको बता दें कि बीते 24 अप्रैल को सुकमा में नक्सलियों ने सीआरपीएफ की एक बटालियन पर अचानक हमला कर दिया था। इस हमले में करीब 25 जवान शहीद हुए थे।
सुकमा में करीब 300 नक्सलियों ने सीआरपीएफ जवानो पर घात लगाकर हमला किया था। हमले के वक्त सीआरपीएफ के 99 जवान पेट्रोलिंग कर रहे थे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story