Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बेंगलुरु: IVF क्लिनिक और डायग्नोस्टिक सेंटर में 100 करोड़ के कालेधन का पर्दाफाश

यहां एक ही लैब में रेफरल फीस मामले में यानी मरीजों को जांच के लिए लैब भेजने के लिए डॉक्टरों को दी जाने वाली रकम 200 करोड़ से ज्यादा है।

बेंगलुरु: IVF क्लिनिक और डायग्नोस्टिक सेंटर में 100 करोड़ के कालेधन का पर्दाफाश

आयकर विभाग के अधिकारियों ने शनिवार को बेंगलुरु में कुछ आईवीएफ क्लीनिकों और डायग्नोस्टिक सेंटरों में बड़े घोटाले का पर्दाफाश किया है।

तलाशी में मेडिकल सेंटरों और डॉक्टरों के बीच एक बड़े बहुस्तरीय गठजोड़ का खुलासा हुआ है और आयकर विभाग ने 100 करोड़ का कालाधन भी पकड़ा है।

आयकर विभाग ने दावा किया कि मेडिकल जांचों की खातिर मरीजों को भेजने के लिए डॉक्टरों को पैसे दिए जा रहे थे।

विभाग ने कहा कि आयकर अधिकारियों ने दो इन-विट्रो फर्टिलाइजेशन (आईवीएफ) सेंटरों एवं पांच डायग्नॉस्टिक सेंटरों के खिलाफ अपनी तीन दिन की कार्रवाई के दौरान 1.4 करोड़ रुपए नगद और 3.5 किलोग्राम आभूषण एवं सोना-चांदी बरामद किए।

इसे भी पढ़ें- पनामा पेपर: दिल्ली एनसीआर में 25 ठिकानों पर छापेमारी, करोड़ों का माल बरामद

उन्होंने विदेशी मुद्रा जब्त की और विदेशी बैंक खातों का पता लगाया जिनमें करोड़ों रुपए जमा थे। विभाग ने एक बयान में कहा कि​ जिन लैबों की तलाशी ली गई उन्होंने 100 करोड़ रुपए से ज्यादा की ऐसी धनराशि घोषित की है जिन्हें कहीं दिखाया नहीं गया है।

यहां एक ही लैब के मामले में रेफरल फीस यानी मरीजों को लैब जांच के लिए भेजने की एवज में डॉक्टरों को दी जाने वाली रकम 200 करोड़ रुपए से ज्यादा है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि​ डायग्नॉस्टिक सेंटरों में तलाशी से ऐसे विभिन्न तौर-तरीकों का पता चला जिससे डॉक्टरों को मेडिकल जांचों के लिए मरीजों को भेजने की एवज में पैसे दिए जा रहे थे।

Next Story
Share it
Top