Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ISRO ने रचा इतिहास, एक साथ किए 104 सैटेलाइट लॉन्च

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैटेलाइट्स के सफल प्रक्षेपण के लिए इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई दी।

ISRO ने रचा इतिहास, एक साथ किए 104 सैटेलाइट लॉन्च
X
नई दिल्ली. भारत दिन-बा-दिन ऊंचाईयों की ओर बढ़ रहा है। भारत विकसित देशों की बराबरी करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है। खास बात यह है कि आज अंतरिक्ष मिशन के लिए ऐतिहासिक दिन है। इसरो अंतरिक्ष केंद्र ने बुधवार यानि आज एक साथ 104 उपग्रह लॉन्च कर दिया है। इसरो ने 9:28 मिनट पर 104 सैटेलाइट्स को आन्ध्र प्रदेश स्थित हरिकोटा से लॉन्च किया। भारत एक रॉकेट से 104 उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजने में सफल रहा है, तो वह इस तरह का इतिहास रचनेवाला पहला देश बन गया।
ये पहला मौका है जब एक साथ 104 उपग्रह अंतरिक्ष में छोड़े जा रहे हैं। इनमें भारत और अमेरिका के अलावा इजरायल, हॉलैंड, यूएई, स्विट्जरलैंड और कजाकिस्तान के छोटे आकार के सैटेलाइट भी शामिल हैं।
पीएसएलवी-सी37 ने अपने 39वें मिशन पर रिकॉर्ड 104 उपग्रहों को प्रक्षेपित किया है। पीएसएलवी पहले 714 किलोग्राम वजनी कार्टोसेट-2 श्रृखला के उपग्रह का पृथ्वी पर निगरानी के लिए लॉन्च हुआ है। इसके बाद 103 सहयोगी उपग्रहों को पृथ्वी से करीब 520 किमी दूर ध्रुवीय सन सिंक्रोनस ऑर्बिट में दाखिल कराएगा, जिनका अंतरिक्ष में कुल वजन 664 किलोग्राम है।
हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार, इसके लिए वैज्ञानिकों ने रॉकेट के प्रोपेलैंट को भरना शुरू कर दिया है। इसरो के वैज्ञानिकों ने एक्सएल वेरिएंट का इस्तेमाल किया है, जो सबसे शक्तिशाली रॉकेट है। इसका इस्तेमाल महत्वाकांक्षी चंद्रयान में और मंगल मिशन में किया जा चुका है। यह सफलता का प्रतीक है।
मिशन में भारत के दो छोटे उपग्रह भी शामिल हैं। प्रक्षेपित किए जाने वाले सभी उपग्रहों का कुल वजन करीब 1378 किलोग्राम है। दोनों भारतीय नैनो-सेटेलाइट आईएनएस-1ए और आईएनएस-1बी को पीएसएलवी पर बड़े उपग्रहों का साथ देने के लिए विकसित किया गया था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story