Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''चंद्रयान-2'' मिशन पर काम कर रहा भारत, पढ़िए ISRO के चंद्रयान- 2 की पूरी जानकारी

आर्बिटर चंद्रमा के आसपास परिक्रमा करता रहेगा और चंद्रमा की सतह से दूर संवेदी प्रेक्षण करेगा। इस मिशन का कुल खर्च लगभग 800 करोड़ रूपए है।

चंद्रयान-2 मिशन पर काम कर रहा भारत, पढ़िए ISRO के चंद्रयान- 2 की पूरी जानकारी
X

सरकार ने आज बताया कि भारत चंद्रयान-2 मिशन आर्विटर पर काम कर रहा है जो चंद्रमा के बारे में वैज्ञानिक जानकारी में वृद्धि करेगा।

लोकसभा में संतोष अहलावत के प्रश्न के लिखित उत्तर में प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री डा. जितेन्द्र सिंह ने बताया कि आर्बिटर, लैंडर और रोवर सहित चंद्रयान 2 एक पूर्णत: स्वदेशी मिशन है। आर्बिटर को चंद्रमा के आसपास 100 किलोमीटर की कक्षा में स्थापित किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि 100 किलोमीटर की चंद्र कक्षा में पहुंचने के बाद लैंडर, आर्बिटर से अलग होगा और चंद्रमा की सतह पर उतरेगा और एक रोवर को स्थापित करेगा। रोवर वहां आस पास भ्रमण करेगा।

इसे भी पढ़ें- नासा की मदद से जापान के वैज्ञानिकों ने खोजे 15 नए ग्रह, एक ग्रह पर मिलेगा पानी!

आर्बिटर चंद्रमा के आसपास परिक्रमा करता रहेगा और चंद्रमा की सतह से दूर संवेदी प्रेक्षण करेगा। डा. जितेन्द्र सिंह ने बताया कि इस मिशन का कुल खर्च लगभग 800 करोड़ रूपए है, और भारत की अगले मंगल मिशन के लिए तैयारी प्रगति पर है।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि इसरो ने सौर पिंडो की खोज करने के लिये योजना तैयार करने के वास्ते एक अध्ययन दल का गठन किया है। अध्ययन दल ने मंगल पर भविष्य में एक मिशन की अनुशंसा की है। वैज्ञानिक प्रस्तावों का चयन एक विशेषज्ञ समिति द्वारा किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि आर्बिटर चंद्रमा की स्थालाकृति, तात्विक तथा खनिज विज्ञान से जुड़े आयाम और उप सतही हिम जल के विस्तार का अध्ययन करेगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story