Breaking News
अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने तालिबान के साथ शर्तें रखते हुए युद्धविराम की घोषणा, तालिबान का अभी तक कोई रिस्पांस नहींमौसम विभाग अलर्ट: अगले तीन घंटों में यूपी के 11 जिलों बारिश की संभावनापाक आर्मी को गले लगाने पर सिद्धू की मुश्किल बढ़ीदिल्ली समेत एनसीआर में मौसम हुआ सुहाना, कई इलाकों में झमाझम बारिशअंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कमर टूटी, लंदन पुलिस को मिली बड़ी कामयाबीरेड अलर्ट : केरल में बाढ़ से अबतक 357 लोगों की मौत, NDRF का अब तक का सबसे बड़ा अभियान जारीअटल बिहारी वाजपेयीः अस्थियों को समेटनें पहुंची बेटी, हरिद्वार विसर्जित होंगी अटल जी की अस्थियांआज हरिद्वार में होगा अटल बिहारी वाजपेयी का अस्थि विसर्जन, पीएम और शाह भी रहेंगे मौजूद
Top

इशरत जहां मामले में पीएम मोदी से की गई थी पूछताछ: DG वंजारा

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Mar 14 2018 12:24AM IST
इशरत जहां मामले में पीएम मोदी से की गई थी पूछताछ: DG वंजारा

पूर्व आईपीएस अधिकारी और इशरत जहां फर्जी मुठभेड़ मामले के आरोपी डीजी वंजारा ने एक सनसनीखेज दावा करते हुए आज कहा कि जांच अधिकारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गुप्त रूप से पूछताछ की थी। आरोप मुक्त करने के लिए विशेष सीबीआई अदालत में दायर की गई अपनी अर्जी में वंजारा ने कहा कि गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री मोदी से पूछताछ की गई थी लेकिन इस मामले के रिकार्ड में ऐसी सामग्री नहीं रखी गईं।

इससे साबित होता है कि इस मामले के रिकार्ड में मौजूद समूची सामग्री कुछ और नहीं, बल्कि एक झूठी कहानी है। वंजारा ने अपनी अर्जी में कहा कि यह तथ्य भी बना रहेगा कि तत्कालीन मुख्यमंत्री और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी जांच अधिकारी ने बुलाया था और पूछताछ की थी। हालांकि, मामले के रिकार्ड में ऐसी सामग्री नहीं रखी गई। 

यह भी पढ़ें- सोनिया गांधी के डिनर के बाद बोले तेजस्‍वी यादव, केंद्र की तानाशाह सरकार को हटाकर रहेंगे- ये नेता हुए शामिल

उन्होंने कहा कि यह तथ्य बना रहेगा कि तत्कालीन जांच टीम की ओर से यह इरादा था कि राज्य के मुख्यमंत्री तक पहुंचा जाए और इस मामले में उन्हें आरोपी बनाया जाए और इस मकसद के लिए आरोपपत्र की पूरी कहानी गढ़ी गई। उन्होंने कहा कि इस तरह मामले के रिकार्ड में मौजूद समूची सामग्री और कुछ नहीं, बल्कि झूठी और मनगढ़ंत कहानी है। 

वहीं, वंजारा द्वारा खुद को आरोपमुक्त किए जाने के लिए दायर अर्जी पर विशेष सीबीआई जज जे के पांड्या ने सीबीआई को नोटिस जारी कर 28 मार्च तक जवाब मांगा है। पूर्व डीआईजी ने गुजरात पुलिस के पूर्व प्रभारी महानिदेशक पीपी पांडे को मामले से आरोपमुक्त किए जाने के आधार पर खुद को आरोपमुक्त किए जाने का अनुरोध किया। 

यह भी पढ़ें- गुजरात स्पीकर ने कांग्रेस के 28 विधायकों को किया निलंबित, जानिए क्या है पूरा मामला

वंजारा ने कहा कि सीबीआई द्वारा दर्ज किए गये गवाहों के बयान बहुत ही संदिग्ध हैं। प्रथम दृष्टया यह साबित करने के लिए कोई साक्ष्य नहीं है कि उनके चैम्बर में रची गई साजिश के परिणामस्वरूप मुठभेड़ हुई, जैसा कि आरोपपत्र में दावा किया गया है। गौरतलब है कि मुंबई की 19 वर्षीय इशरत, जावेद शेख उर्फ प्राणेश पिल्लई, अमजद अली अकबर अली राणा और जीशान जौहर 15 जून 2004 को अहमदाबाद के बाहरी इलाके में एक कथित मुठभेड़ में मारे गए थे। 

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
ishrat jahan fake encounter dg vanzara claims pm modi was interrogated calls material on record of case false

-Tags:#Ishrat Jahan Case#DG vanzara#PM Modi#Gujarat
mansoon
mansoon

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo