Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Zawahiri Killing: अमेरिकी ड्रोन हमले पर तालिबान ने उठाए सवाल, बोला- हक्कानी फैमिली का कोई नहीं मारा गया

अफगानिस्तान (Afghanistan) के काबुल (Kabul) में अमेरिकी ड्रोन (US Drone) हमले में मारे गए अल कायदा चीफ अयमान अल-जवाहिरी के मारे जाने के बाद तालिबान भड़ गया।

Zawahiri Killing: अमेरिकी ड्रोन हमले पर तालिबान ने उठाए सवाल, बोला- हक्कानी फैमिली का कोई नहीं मारा गया
X

अफगानिस्तान (Afghanistan) के काबुल (Kabul) में अमेरिकी ड्रोन (US Drone) हमले में मारे गए अल कायदा चीफ अयमान अल-जवाहिरी के मारे जाने के बाद तालिबान भड़ गया है और साथ ही उसने इस कार्रवाई को लेकर सवाल उठाए हैं। एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान तालिबानी सूत्रों ने कहा कि अमेरिकी ड्रोन हमले में हक्कानी परिवार से कोई एक शख्स नहीं मारा गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अफगान में तालिबान के सूत्रों ने कहा कि अमेरिका ने काबुल के सेंटर में अल-कायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी पर सटीक हमला किया, लेकिन इस हमले में हक्कानी परिवार का कोई भी सदस्य नहीं मारा गया।

जवाहिरी ने 11 सितंबर 2011 को हुए हमले में मदद की थी। जिसमें कम से कम 3 हजार लोग मारे गए थे। इस हमले के बाद अमेरिकी सरकार ने अयमान अल जवाहिरी के सिर पर 25 मिलियन डॉलर का ईनाम रखा। जो पेशे से एक डॉक्टर था। जवाहिरी मारा गया जब वह काबूल में अपने घर की बालकॉनी पर आया और एक यूएस ड्रोन मिसाइल से उस पर हमला किया गया।

सूत्रों ने बताया कि हमला काबुल का दिल रहने जाने वाले शेरपुर कैंट में 30 जुलाई की सुबह 6 बजे हुआ। ये जगह ईरान और तुर्की दूतावास के नजदीक है। अमेरिका के व्हाइट हाउस से जारी बयान में राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि उसने काबुल में एक सटीक हमला किया और इस हमले में किसी भी नागरिकी की मौत नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि अब न्याय मिला है। ये आतंकवादी अब जिंदा नहीं है। कोई फर्क नहीं पड़ता है कि इसमें कितना समय लगा और आप कहां छिपे हुए हैं। यदि आप हमारे लोगों के लिए खतरा है तो अमेरिका आपको ढुंढेगा और बाहर निकालेगा। इस हमले को लेकर तलिबान के प्रवक्ता ने कड़ी निंदा की है। उन्होंने माना है कि हमला हुआ है।

और पढ़ें
Next Story