Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने चीन को चेताया, ताइवान के समर्थन में दिया बड़ा बयान

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिकी राष्ट्रपति का कहना है कि यदि चीन ताइवान पर हमला करता है तो अमेरिका भी सैन्य हस्तक्षेप करेगा।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने चीन को चेताया, ताइवान के समर्थन में दिया बड़ा बयान
X

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) क्वाड शिखर सम्मेलन (Quad Summit) में हिस्सा लेने के लिए जापान (Japan) पहुंचे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति के अलावा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के पीएम प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीस (Prime Minister Anthony Albanese) भी क्वाड में हिस्सा लेने को जापान के टोक्यो में पहुंच चुके हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को जापान के पीएम के अलावा तीनों नेताओं की मुलाकात होगी। लेकिन, इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति ने ताइवान के समर्थन में बड़ा बयान दे दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिकी राष्ट्रपति का कहना है कि यदि चीन ताइवान पर हमला करता है तो अमेरिका भी सैन्य हस्तक्षेप करेगा। अमेरिकी राष्ट्रपति का यह बयान काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। बता दें कि जापान, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और भारत का क्वाड समूह पहले से ही चीन की आंखों की किरकिरी बना हुआ है। ऐसे में भारत के प्रधानमंत्री और अमेरिकी राष्ट्रपति के बीच होने वाली मुलाकात पर पहले से ही उसकी नजर लगी होगी।

खबरों से मिली जानकारी के अनुसार अमेरिकी राष्ट्रपति ने यह भी कहा है कि भारत और जापान के अलावा 11 अन्य देश मिलकर हिंद प्रशांत व्यापार समझौते की शुरुआत करेंगे। हमारा देश अमेरिका अन्य देशों के साथ मजबूती से खड़ा है। इसके अलावा अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, नया हिंद-प्रशांत व्यापार समझौता आपूर्ति शृंखला, डिजिटल व्यापार, स्वच्छ ऊर्जा, कर्मचारी सुरक्षा और भ्रष्टाचार निरोधी कोशिशों समेत अनेक मुद्दों पर अमेरिका और एशियाई अर्थव्यवस्थाओं को मदद करेगा।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति के अलावा जापान के पीएम ने भी भारत के पड़ोसी देश चीन को चेतावनी दी है। जापानी पीएम का कहना है कि एशिया में शांति और स्थिरता को कायम रखा जाना चाहिए। अमेरिका के साथ संयुक्त बयान के दौरान एक सवाल पूछा गया, अगर चीन ताइवान पर कब्जा कर लेता है तो क्या हो सकता है? इस सवाल के जवाब में जापानी पीएम ने कहा, हम अमेरिकी सहयोग से अपनी रक्षा क्षमता को मजबूत कर रहे हैं।

और पढ़ें
Next Story