Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कश्मीर पर पाकिस्तान को UNHRC में लगा दूसरा बड़ा झटका, जानें कैसे रहा समर्थन मिलने में नाकाम

जेनेवा (Geneva) में चल रहे संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में कश्मीर मुद्दें (Kashmir issues) पर एक बार फिर से दुनिया के अन्य देशों का समर्थन जुटाने में पाकिस्तान (Pakistan) नाकाम रहा है।

कश्मीर पर पाकिस्तान को UNHRC में लगा दूसरा बड़ा झटका, जानें कैसे रहा समर्थन मिलने में नाकामPakistan Jammu Kashmir issue UNHRC

जेनेवा (Geneva) में चल रहे संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में कश्मीर मुद्दें (Kashmir issues) पर एक बार फिर से दुनिया के अन्य देशों का समर्थन जुटाने में पाकिस्तान (Pakistan) नाकाम रहा है। यूएनएचआरसी में पाकिस्तान 16 देशों का समर्थन हासिल नहीं कर पाया है।

यूएनएचआरसी में किसी भी प्रस्ताव को पास करवाने में 47 सदस्यों में से 16 का समर्थन हासिल करना होता है। लेकिन पाकिस्तान इतने देशों का समर्थन हासिल करने में नाकाम रहा है।

पाकिस्तान को दूसरा बड़ा झटका

पाकिस्तान को 24 घंटे में यह दूसरा सबसे बड़ा झटका लगा है। क्योंकि इससे पहले यूरोपीय यूनियन की संसद ने पाकिस्तान को लेकर बड़ा बयान दिया था। संसद में बयान देकर कहा गया कि आतंकवादी चांद से नहीं आते हैं।


पाकिस्तान के पास दो विकल्प

बता दें कि जेनेवा में 42वां सत्र चल रहा है। पाकिस्तान के पास तीन विकल्प थे पहला प्रस्ताव, दूसरा बहस और तीसरा विशेष सत्र। लेकिन वो पहले प्रस्ताव के विकल्प से बाहर हो गया है।

इतने देशों का समर्थन जरूरी

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में कश्मीर पर प्रस्ताव के लिए पाकिस्तान को 16 देशों से बड़ा झटका लगा है। 9 से 27 सितंबर को यूएनएचआरसी सत्र के दौरान इस तरह की पहल करने का अंतिम दिन था और पाकिस्तान ने न्यूनतम समर्थन हासिल करने में फेल रहा है। जबकि पाकिस्तान को कम से कम 24 मतों की आवश्यकता होगी।

इमरान खान का समर्थन वाला बयान

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग (यूएनएचआरसी) में पाकिस्तान की कश्मीर पर राजनीति को लेकर पीएम इमरान खान ने कहा कि 58 देश हमारे साथ हैं। लेकिन अब सदन में पाकिस्तान कश्मीर मुद्दें पर अकेला हो गया है।

Next Story
Share it
Top