Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sri Lanka Crisis: प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति भवन को घेरा, आवास छोड़कर भागे President गोटबाया राजपक्षे

पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को आवास पर से हटाने के लिए आंसू गैस के गोले देगे। लेकिन फिर भी प्रदर्शनकारी हटे नहीं।

Sri Lanka Crisis: प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति भवन को घेरा, आवास छोड़कर भागे President गोटबाया राजपक्षे
X

Sri Lanka Crisis: आर्थिक संकटों से जूझ रहे श्रीलंका (Sri Lanka) की हालत लगातार खराब होती जा रही है। श्रीलंका में आज राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे के आवास को प्रदर्शनकारियों ने घेर लिया और उनके आवास में तोड़फोड़ भी की है। इसके बाद राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे (Gotabaya Rajapaksa) आवास छोड़कर भाग गए हैं। न्यूज एजेंसी एएफपी ने डिफेंस सूत्रों के हवाले से ये जानकारी दी है।

बता दें कि वर्तमान समय में श्रीलंका आर्थिक संकटों से जूझ रहा है। यही कारण है कि श्रीलंका में प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे के इस्तीफे की मांग करते हुए शनिवार को राष्ट्रपति भवन को घेर लिया। आर्थिक के कारण श्रीलंका के कुछ हिस्सों में कई ऐसे परिवार भी हैं जिन्हें खाना भी नहीं मिल पा रहा है। देश में वस्तुओं की कीमतें बहुत अधिक महंगी हो गई हैं। प्रदर्शनकारी श्रीलंका की बेहद खराब हालत के खिलाफ सड़कों पर उतरे हैं।

पुलिस ने दागे आंसू गैसे के गोले

पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को आवास पर से हटाने के लिए आंसू गैस के गोले देगे। लेकिन फिर भी प्रदर्शनकारी हटे नहीं। रिपोर्ट के अनुसार, प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़कर राष्ट्रपति भवन में प्रवेश कर लिया। प्रदर्शनकारियों ने आर्थिक संकट के लिए गोटाबाया राजपक्षे को जिम्मेदार ठहराया है। प्रदर्शनकारियों 90 दिनों से उनके कार्यालय के एंट्री गेट पर कब्जा कर रखा है।

सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारी

जानकारी के लिए आपको बता दें कि श्रीलंका के झंडे लेकर हजारों प्रदर्शनकारी फ्यूल (ईंधन) की भारी कमी की वजह से रोडों पर कुछ वाहनों पर सवार होकर पहुंचे। जबकि, कई अन्य लोग साइकिल पर सवार होकर सड़कों पर उतरे। बताते चलें कि पिछले महीने श्रीलंका के पीएम रानिल विक्रमसिंघे ने कहा था, देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के साथ सरकार की बातचीत जटिल रही है। क्योंकि अब यह एक दिवालिया देश के रूप में बातचीत में शुरू कर चुका है।

और पढ़ें
Next Story