Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

श्रीलंका आर्थिक संकट: राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने द्वीप राष्ट्र से आपातकाल हटाया, चीन के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा

श्रीलंका में बिगड़ते हालाते के बीच राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे (President Gotabaya Rajapaksa) ने बीती रात इमरजेंसी (Emergency) हटाने की घोषणा कर दी है।

श्रीलंका आर्थिक संकट: राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने द्वीप राष्ट्र से आपातकाल हटाया, चीन के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा
X

Sri Lanka Economic Crisis: श्रीलंका में आर्थिक संकट गहराया हुआ है। द्वीप राष्ट्र (Sri Lanka- श्रीलंका) में आर्थिक संकट को लेकर बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन (Protest) जारी है। आपूर्ति कम होने से जरूरी वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे हैं। नागरिक ईंधन, रसोई गैस और जरूरी वस्तुओं के लिए लंबी कतारों में खड़े होने को मजबूर हैं। घंटों बिजली कटौती ने हालात को और खराब कर दिया है।

प्रदर्शनकारियों ने पीएम महिंदा राजपक्षे के घर तक मार्च निकाला

श्रीलंका में बिगड़ते हालाते के बीच राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे (President Gotabaya Rajapaksa) ने बीती रात इमरजेंसी (Emergency) हटाने की घोषणा कर दी है। बता दें कि श्रीलंका में आर्थिक संकट के बीच एक अप्रैल को आपातकाल लगाया गया था, जिस अब हटा देना का ऐलान कर दिया गया है। देश में आपातकाल के बाद से श्रीलंका सरकार को भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा था। श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में छात्रों ने बीते मंगलवार की शाम को भारी बरसात के बीच पीएम महिंदा राजपक्षे के घर तक मार्च निकाला था।

चीन अन्य देशों को उधार देकर उनका सबकुछ खरीद रहा

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, देश में गहराते आर्थिक संकट के बीच द्वीप राष्ट्र (Island Nation) में चीन के खिलाफ भी लोगों को गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है। रिपोर्ट के अनुसार, प्रदर्शनकारियों ने कहा है कि श्रीलंका सरकार (Sri Lanka Government) के पास पैसा नहीं है। क्योंकि हमारी सरकार ने चीन (China) को सब कुछ बेच दिया है। चीन अन्य देशों को उधार देकर उनका सबकुछ खरीद रहा है।

और पढ़ें
Next Story