Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Who is Shinzo Abe: जानें कौन हैं जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे, भारत के नाम बड़ा रिकॉर्ड दर्ज

शिंजो आबे का जन्म 1954 में जापान में हुआ था। वह दो बार जापान के प्रधानमंत्री भी रहे। साल 2006 से 2007 और साल 2012 से 2020 तक पीएम का कार्यकाल संभाला।

Who is Shinzo Abe: जानें कौन हैं जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे, भारत के नाम बड़ा रिकॉर्ड दर्ज
X

जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे

जापान (Japan) में सबसे लंबे वक्त तक प्रधानमंत्री (PM) रहे शिंजो आबे (Shinzo Abe) को शुक्रवार सुबह एक शख्स ने गोली मार दी। शिंजो आबे को भाषण देने के दौरान पश्चिमी जापान के नारा में गोली मार दी। खून से लथपथ आबे को अस्पताल में भर्ती किया गया है। प्रारंभिक रिपोर्ट के मुताबिक, हालत नाजुक बताई जा रही है और उनके हार्ट ने काम करना बंद कर दिया है। आबे को किसने गोली मारी है और क्यों मारी है इसकी अभी जानकारी नहीं मिली है। लेकिन पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, शिंजो आबे को पीछे से गोली मारी गई है।

कौन हैं शिंजो आबे

शिंजो आबे का जन्म 1954 में हुआ था। वह दो बार जापान के पीएम रहे। साल 2006 से 2007 और साल 2012 से 2020 तक पीएम का कार्यकाल संभाला। कई मौकों पर पीएम नरेंद्र मोदी ने उन्हें अपना सबसे अच्छा दोस्त बताया है। शिंजो आबे दो बार लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी के अध्यक्ष भी रहे हैं।

आबे जापान के सबसे लंबे वक्त तक प्रधानमंत्री रहे हैं। प्रधानमंत्री के रूप में शिंजो आबे ने लंबे कार्यकाल तक काम किया। उन्होंने अपने राजनीतिक करियर में कई महत्वपूर्ण पदों पर काम किया, जिसमें चीफ कैबिनेट सेक्रेटरी और विपक्ष के नेता की भूमिका शामिल है। 1993 में उन्होंने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी जब वह प्रतिनिध सभा के सदस्य चुन गए।

तत्कालीन पीएम जुनिचिरो काईजूमी ने सितंबर 2005 में उन्हें मुख्य कैबिनेट सचिव नियुक्त किया था। उन्होंने एक साल बाद ही उन्हें देश का पीएम और पार्टी अध्यक्ष बना दिया। वह दूसरे विश्वयुद्ध के बाद वह सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री रहे। उन्होंने स्वास्थ्य खराब होने पर अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। वह 2022 में जापान के अंदर राजनीतिक स्थिरता लाए, जब वह भारी मतों से जीते। इससे पहले जापान के 5 पीएम अपना 16 महीने का कार्यकाल भी पूरा नहीं कर सके थे। उनके नाम भारत में सबसे ज्यादा बार यात्रा करना का एक खास रिकॉर्ड दर्ज है।

कहते हैं कि आबे ने साल 2017 के चुनाव में अपनी 20212 की शानदार जीत के प्रदर्शन को दोहराया और उनकी पार्टी भारी मदों से उनके नेतृत्व में जीती। वह 2020 में लंबी सेवा करने वाले सबसे पहले प्रधानमंत्री बने। शिंजो आबे को राजनीतिक विचारधारा के द्वारा रूढ़ीवादी भी कहा जाता है।

और पढ़ें
Next Story