Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Russia-Ukraine War: रूस और यूक्रेन युद्ध के 100 दिन पूरे, शहर तबाह और लाखों का नुकसान

रूस और यूक्रेन के बीच हुए युद्ध को 100 दिन पूरे हो चुके हैं। तबाही का मंजर अभी भी जारी है। रूसी आक्रमण ने यूक्रेन से 6.8 मिलियन लोगों के पलायन को मजबूर कर दिया है

Russia-Ukraine War: रूस और यूक्रेन युद्ध के 100 दिन पूरे, शहर तबाह और लाखों का नुकसान
X

रूस और यूक्रेन (Russia and Ukraine) के बीच युद्ध को 100 दिन (100 Days of War) हो चुके हैं। इस दौरान दुनिया बहुत बदल गई है। विश्व की अर्थव्यवस्था और कूटनीति भी बदल गई। दूसरी ओर जब युद्ध की भयावहता की बात आती है तो यूक्रेनी में कई शहर तबाह हो गए और खंडहर में बदल गए है। अभी भी युद्ध का सिलसिला जारी है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यूक्रेन को नाटो में शामिल होने से रोकने के मुद्दे पर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन के इनकार पर भी युद्ध की घोषणा कर दी। युद्ध की लपटों से यूरोप और बाहरी दुनिया भी प्रभावित हुई। रूस को कड़े प्रतिबंधों का सामना करना पड़ा। लेकिन उन्होंने लगातार सफल मिसाइल परीक्षण और परमाणु हमले की चेतावनी देकर अमेरिका और नाटो के सदस्य देशों को सोचने पर मजबूर कर दिया। जानिए रूस-यूक्रेन के साथ-साथ भारत और दुनिया पर युद्ध का क्या प्रभाव पड़ा।

रूसी आक्रमण ने यूक्रेन से 6.8 मिलियन लोगों के पलायन को मजबूर कर दिया है, जो कि इसकी आबादी का लगभग 15 फीसदी है, यानी हर छह में से एक यूक्रेनियन को देश छोड़ने के लिए मजबूर किया गया है। यूएनएचआरसी की रिपोर्ट के मुताबिक, इन 6.8 मिलियन लोगों में से लगभग 3.6 मिलियन लोग पोलैंड पहुंच चुके हैं, जिससे इसकी आबादी में 10 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

रूस पर अब तक 10 हजार से ज्यादा प्रतिबंध

रूस की घेराबंदी करने के लिए पश्चिमी देश लगातार प्रतिबंधों पर नकेल कस रहे हैं। युद्ध की शुरुआत से लेकर अब तक रूस पर 5,831 प्रतिबंध लगाए जा चुके हैं। इनमें से अमेरिका ने सबसे ज्यादा 1,144 प्रतिबंध लगाए हैं। इसके अलावा 4,800 से अधिक रूसी नागरिकों पर प्रतिबंध लगाया गया है और 562 संस्थानों और 458 कंपनियों को प्रतिबंध के तहत रखा गया है। 2014 से अब तक रूस पर कुल 10,159 प्रतिबंध लगाए जा चुके हैं।

और पढ़ें
Next Story