Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

PM Modi In Denmark: रूस-यूक्रेन युद्ध पर पीएम मोदी की तत्काल अपील, दोनों के बीच कई समझौतों पर हस्ताक्षर

पीएम मोदी और डेनमार्क की पीएम मेटे फ्रेडरिकसेन के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई। दोनों पक्षों ने हरित सामरिक भागीदारी में प्रगति की समीक्षा की।

PM Modi In Denmark: रूस-यूक्रेन युद्ध पर पीएम मोदी की तत्काल अपील, दोनों के बीच कई समझौतों पर हस्ताक्षर
X

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) 2 मई से तीन दिवसीय यूरोप दौरे पर हैं। सोमवार को जर्मनी के बाद मंगलवार को डेनमार्क (Denmark) पहुंचे। राजधानी कोपेनहेगन में पीएम मेटे फ्रेडरिकसेन (PM Mette Frederiksen) ने पीएम मोदी का स्वागत किया। इसके बाद वार्ता हुई और दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई। दोनों देशों के बीच कई समझौतों पर हस्ताक्षर भी हुए।

पीएम मोदी और डेनमार्क के पीएम मेटे फ्रेडरिकसेन के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई। दोनों पक्षों ने हरित सामरिक भागीदारी में प्रगति की समीक्षा की। विदेश मंत्रालय ने जानकारी देते हुए कहा कि दोनों के बीच कौशल विकास, जलवायु, नवीकरणीय ऊर्जा, आर्कटिक समेत कई मुद्दों पर आपसी सहमति बनी है। मोदी और मेटे की उपस्थिति में कोपेनहेगन में समझौता ज्ञापनों का आदान-प्रदान भी किया गया।

उन्हीं समझौतों को लेकर पीसी के जरिए संयुक्त बयान जारी किया गया। पीएम मोदी ने यूक्रेन मुद्दे पर इस बार विदेशी जमीन से दोनों देशों से अपील की। संयुक्त बयान जारी करने के दौरान रूस-यूक्रेन युद्ध पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यूक्रेन में तत्काल युद्धविराम होना चाहिए। यह अपील भारत की ओर से लगातार की जाती रही है।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि मुझे खुशी है कि विभिन्न क्षेत्रों में विशेष रूप से नवीकरणीय ऊर्जा, स्वास्थ्य, बंदरगाह, शिपिंग, सर्कुलर अर्थव्यवस्था और जल प्रबंधन में महत्वपूर्ण विकास हुआ है। कोपेनहेगन में अपने संबोधन के दौरान पीएम ने कहा कि अक्टूबर 2020 में भारत-डेनमार्क आभासी शिखर सम्मेलन के दौरान हमने हमारे संबंधों को हरित सामरिक भागीदारी करार दिया था। आज की हमारी चर्चा के दौरान हमने अपनी हरित रणनीतिक साझेदारी की संयुक्त कार्य योजना की भी समीक्षा की। साथ ही कहा कि यूक्रेन में तत्काल युद्धविराम और समस्या के समाधान के लिए संवाद और रणनीति का रास्ता अपनाने की अपील की।

और पढ़ें
Next Story